Create
Notifications

पाकिस्तान ने आईसीसी वर्ल्ड लीग में खेलने के लिए रखी शर्त, कहा पहले भारत उसके साथ किए गए करार को पूरा करे

Rahul

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने आईसीसी द्वारा आयोजित होने वाली टेस्ट चैंपियनशिप और एकदिवसीय लीग में शामिल होने के लिए आईसीसी के सामने एक शर्त रखी है। दरअसल पीसीबी ने आईसीसी के सामने शर्त रखी है कि अगर बीसीसीआई भारत और पाकिस्तान के बीच हुए 2014 में एमओयु को लेकर राजी नहीं होती है, तो वह इस लीग में हिस्सा नहीं लेंगे। यह फैसला उन्होंने भारतीय क्रिकेट बोर्ड को अपनी मनमानी पर राजी करने के लिए लिया है। आईसीसी द्वारा आगामी आईसीसी चैंपियनशिप में हिस्सा न लेने पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन नजम सेठी ने कारण बताते हुए कहा कि पीसीबी टेस्ट चैंपियनशिप और वनडे लीग में हिस्सा लेने पर तभी हस्ताक्षर करेगा, जब भारतीय क्रिकेट बोर्ड दोनों देशों के बीच हुए साल 2014 में द्विपक्षीय सीरीज के करार पर अपना मत रखेगा, अन्यथा हम इस लीग में हिस्सा नहीं लेंगे। आईसीसी द्वारा आयोजित होने वाली 2 वर्षीय चैंपियनशिप लीग में बोर्ड द्वारा सभी डाक्यूमेंट्स 3 से 4 महीने में आईसीसी को दे दिए जायेंगे लेकिन उससे पहले हमारी शर्तों पर भी विचार करना होगा। दरअसल भारतीय क्रिकेट बोर्ड और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के बीच साल 2014 में एक एमओयू के तहत 2015 से 2023 तक दोनों देशों के बीच 6 द्विपक्षीय श्रृंखला खेलने पर फैसला लिया गया था। इसकी शुरुआत 2015 में पाकिस्तान में सीरीज के साथ होती लेकिन पाकिस्तान में आतंकवादी माहौल और दोनों देशों के बीच सरहद पर बढ़ते तनाव को देखते हुए बीसीसीआई ने इस करार पर कोई फैसला नहीं लिया है। पीसीबी की शर्तों पर आईसीसी का फैसला देखना भी दिलचस्प रहेगा और साथ ही बीसीसीआई इस मामले को लेकर अपना क्या मत रखती है, यह भी आने वाले दिनों में पता चल जायेगा। गौरतलब है ऑकलैंड में हुई आईसीसी की बैठक में 2019 विश्व कप के बाद टेस्ट चैंपियनशिप और एकदिवसीय लीग कराने का फैसला किया गया था। इसके अलावा उसी बैठक में 4 दिनों के टेस्ट को भी प्रयोग के तौर पर मंजूरी दी गई थी।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...