WPL के इस नए नियम को IPL में भी किया जा सकता है लागू, नो बॉल और वाइड के लिए ले सकेंगे DRS

Nitesh
नो बॉल और वाइड को लेकर लागू किया गया DRS
नो बॉल और वाइड को लेकर लागू किया गया DRS

वुमेंस प्रीमियर लीग (WPL) में तीन मुकाबले हो चुके हैं और तीनों ही मैच काफी शानदार हुए हैं। फैंस को हाई-स्कोरिंग मुकाबले देखने को मिले। इस दौरान कुछ ऐसे नियम भी फैंस को देखने को मिले जो शायद टी20 क्रिकेट में पहली बार हुए हों। उदाहरण के लिए नो बॉल और वाइड के लिए रिव्यू। वुमेंस आईपीएल में नियम बनाया गया है कि आप नो बॉल और वाइड के लिए भी रिव्यू ले सकते हैं। यूपी वॉरियर्स और गुजरात जायंट्स के बीच हुए मुकाबले में ऐसा देखने को मिला। वहीं खबर ये भी आ रही है कि मेंस आईपीएल में भी इस नियम को लागू किया जा सकता है।

WPL के नियमों के अनुसार, खिलाड़ियों को वाइड और नो बॉल को चुनौती देने के लिए डीआरएस का उपयोग करने की अनुमति है। टूर्नामेंट के पहले मैच में हरमनप्रीत कौर ने भी मैदानी अंपायर के वाइड बॉल कॉल को पलटने के लिए डीआरएस का इस्तेमाल किया था। इसके बाद दिल्ली कैपिटल्स की उप कप्तान जेमिमा रॉड्रिग्स ने नो बॉल के लिए डीआरएस लिया और गुजरात और यूपी के मैच में वाइड के लिए दो बार रिव्यू लिया गया। इस नए नियम की काफी तारीफ हो रही है।

टी20 इतिहास में पहली बार वाइड और नो बॉल के लिए DRS की सुविधा दी गई है

टी20 के इतिहास में ये पहली बार हुआ है जब नो बॉल और वाइड के लिए डीआरएस लेने का नियम लागू किया गया है। अगर किसी भी खिलाड़ी चाहे वो बैटिंग पक्ष की हो या फील्डिंग पक्ष की है, अगर उसे संदेह है तो फिर वो डीआरएस ले सकती है। वहीं अब खबरें आ रही हैं कि इस नए नियम को मेंस आईपीएल में भी लागू किया जा सकता है। ईएसपीएन क्रिकइन्फो की रिपोर्ट के मुताबिक टीमें अब मेंस आईपीएल में भी नो बॉल और वाइड के लिए डीआरएस का प्रयोग कर सकेंगी।

Quick Links

Edited by Nitesh
App download animated image Get the free App now