Create
Notifications

प्रणव धनावड़े ने लगाया शानदार दोहरा शतक, क्रिकेट छोड़ देने का मन बना लिया था

मयंक पुरोहित

पूरी दुनिया का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने वाले मुंबई के प्रणव धनावड़े वो ही व्यक्ति है जिसने वर्ष 2016 में 1009 रनों की नाबाद पारी खेली थी। प्रणव ने फिर से अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए एक शानदार पारी खेली जिसमे प्रणव ने 236 रन बनाए। खास बात यह है कि प्रणव ने यह पारी 1009 रन की रिकॉर्डतोड़ पारी की दूसरी वर्षगाँठ की पूर्व संध्या को खेली।

गुरुवार को गुरु नानक कॉलेज और झुनझुनवाला कॉलेज के बीच 45 ओवर के इंटर कॉलेज मैच में झुनझुनवाला कॉलेज की तरफ से प्रणव ने 236 रन की शानदार पारी खेली जिसकी बदौलत टीम का स्कोर 459 रन हुआ। स्लो ओवर रेट के कारण विपक्षी टीम पर पेनल्टी लगी जिससे दूसरी टीम को 51 रन अतिरिक्त मिले। झुनझुनवाला कॉलेज की तरफ से यश सिंह (गेंदबाज़ ) ने बेहतरीन प्रदर्शन किया। यश ने 5. 2 ओवर में 14 रन देकर 7 विकेट लिए और गुरु नानक कॉलेज की टीम महज़ 60 रन बनाकर आउट कर दिया । प्रणव का कहना है कि वह अपने प्रदर्शन से खुश है और एक नयी शुरुआत करना चाहता है। प्रणव के अनुसार वह भविष्य के विषय में ज्यादा सोचना नहीं चाहता है और खेल का आनंद उठाना चाहता है।

प्रणव के लिए यह पारी बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि 1009 रन की पारी के बाद प्रणव के प्रदर्शन में एक अस्थिरता आ गयी थी। पिछले वर्ष अंडर परफॉरमेंस के कारण मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने प्रणव की वार्षिक 10 हज़ार की छात्रवृत्ति बंद कर दी। कांगा क्रिकेट लीग में भी प्रणव अपना स्थान बनाने में नाकाम रहे थे। एयर इंडिया ने भी एक वर्ष के बाद उसका कॉन्ट्रैक्ट रीन्यू नहीं किया। इस पारी ने प्रणव में नया जोश और उमंग भर दिया है और वह अपना ध्यान खेल पर लगाना चाहते है।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...