विश्वकप 2019 के लिए टीम इंडिया के मध्यक्रम का संभावित बल्लेबाज़ी क्रम

इंडियन प्रीमियर लीग के समापन के साथ ही भारतीय क्रिकेट प्रशंसकों का ध्यान अब टीम इंडिया के अफगानिस्तान के साथ एकमात्र टेस्ट और इंग्लैंड दौरे पर है। अगले साल होने वाले विश्व कप को देखते हुए अब हर अंतरराष्ट्रीय मैच खिलाड़ियों के लिए महत्वपूर्ण होगा, खासकर उन खिलाड़ियों के लिए जिन्होंने अभी तक टीम में अपनी जगह पक्की नहीं की है। इस लेख में हम इंग्लैंड दौरे पर भारतीय टीम के मध्य-क्रम में खेलने वाले खिलाड़ियों के बारे में चर्चा कर रहे हैं।

नंबर 3- विराट कोहली

भारतीय कप्तान विराट कोहली टीम इंडिया के मध्य-क्रम के पांच बल्लेबाज़ों में पहले नंबर पर आते हैं। कोहली ने हाल ही में सम्पन्न हुए आईपीएल सीज़न में बहुत शानदार प्रदर्शन किया है। उन्होंने 50 की औसत से कुल 530 रन बनाए हैं। इससे पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज़ में, कोहली ने कई रिकॉर्ड कायम किये जब उन्होंने 6 मैचों की श्रृंखला में तीन शतक ठोक डाले थे। कोहली ने उस सीरीज़ में 186 रनों की लाजबाव औसत से 558 रन बनाकर रोहित शर्मा के द्विपक्षीय श्रृंखला में सर्वाधिक रनों के रिकॉर्ड को तोड़ दिया था। अब इंग्लैंड दौरे में टीम इंडिया को उनसे वैसा ही प्रदर्शन दोहराने की उम्मीद होगी, हालांकि कोहली इस समय चोट से उबर रहे हैं और 15 जून को फिटनेस टेस्ट से गुज़रने के बाद ही यह तय होगा के वह टी-20 श्रृंखला में खेल पाते है या नहीं।

नंबर 4 - रोहित शर्मा

रोहित शर्मा का नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी करना बहस का विषय है लेकिन इस आईपीएल सीज़न में के एल राहुल ने सलामी बल्लेबाज़ के तौर पर बेहतरीन बल्लेबाज़ी की है तो वहीं रोहित ने मुंबई के लिए नंबर चार पर बल्लेबाज़ी की है। चार नंबर परबल्लेबाज़ी करते हुए रोहित ने 32 की औसत और 79 की स्ट्राइक रेट से 715 रन बनाए है, हालाँकि यह आंकड़े उनकी प्रतिभा को प्रदर्शित नहीं करते लेकिन अब वह अनुभवी और परिपक्व बल्लेबाज़ हैं और टीम की ज़रूरत के हिसाब से आगामी श्रृंखला में नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी के लिए उतर सकते हैं, इससे मध्य क्रम और मजबूत होगा। अगले साल होने वाले विश्व कप को देखते हुए यह एक दूरदर्शी फैसला होगा।

नंबर 5 - एम एस धोनी

एमएस धोनी ने हाल ही में चेन्नई सुपर किंग्स को तीसरी बार आईपीएल का ख़िताब जिताया है। बल्ले के साथ, शायद यह उनका अब तक का सर्वश्रेष्ठ सीज़न था, जिसमें उन्होंने 75.83 की औसत, 150 की स्ट्राइक रेट से 455 रन बनाए। इस विकेटकीपर-बल्लेबाज ने बल्लेबाजी क्रम में खुद को पदोन्नत किया और टूर्नामेंट में चार और पांच नंबर पर बल्लेबाज़ी की। उनके इस प्रदर्शन को देखते हुए भारतीय टीम में उन्हें नंबर पांच पर बल्लेबाज़ी के लिए भेजा जा सकता है। अपने वनडे करियर में पांचवें नंबर पर बल्लेबाज़ी करते हुए धोनी ने 68 मैचों में 53 की औसत से 2718 रन बनाए हैं, जिसमें चार शतक भी शामिल हैं। पांचवें नंबर पर बल्लेबाज़ी करने से धोनी के पास काफी समय होगा कि वो पिच को समझ सकें और बाद में तेज़ी से रन बनाएं।

नंबर 6 - दिनेश कार्तिक

कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान ने इस सीज़न में अपनी टीम की तरफ से सर्वाधिक रन बनाए हैं। कार्तिक ने लीग में 150 की स्ट्राइक रेट से 498 रन बनाए हैं। तमिलनाडु के इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने पिछले कुछ समय से अपने खेल के स्तर को ऊँचा उठाया है। वर्तमान भारतीय टीम में कार्तिक सबसे अनुभवी खिलाड़ियों में से एक है और विश्व कप में उनके अनुभव का फायदा टीम इंडिया को मिल सकता है। यह विकेटकीपर-बल्लेबाज इंग्लैंड दौरे में सीमित ओवरों के दोनों प्रारूपों में टीम का हिस्सा हैं।

नंबर 7 - हार्दिक पांड्या

हार्दिक पांड्या क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में भारतीय टीम का मुख्य आधार बन गए हैं और इस आईपीएल सीज़न में उनका गेंदबाज़ी प्रदर्शन शानदार रहा है। पांड्या ने बल्ले और गेंद दोनों के साथ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 13 मैचों में 260 रन बनाए और 18 विकेट लिए हैं। इंग्लैंड दौरे में होने वाली टी-20 और वनडे श्रृंखला में पांड्या मुख्य भूमिका निभा सकते हैं। अगले साल होने वाले विश्व कप को देखते हुए यह दौरा उनके लिए बहुत महत्वपूर्ण होगा। लेखक: नितीचौहान28 अनुवादक: आशीष कुमार

Edited by Staff Editor