Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

ICC Under19 World Cup :पृथ्वी शॉ ने साबित किया कि क्रिकेट है भद्रजनों का खेल

Modified 21 Sep 2018, 20:25 IST
Advertisement
अंडर-19 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल मैच में भारतीय अंडर-19 टीम के कप्तान पृथ्वी शॉ ने ऐसा कुछ किया, जिसकी तारीफ पूरा क्रिकेट जगत कर रहा है। भारत ने सेमीफाइनल मैच में पाकिस्तान को 203 रनों से हराया। कप्तान पृथ्वी शॉ ने इस दौरान शानदार फील्डिंग की और साथ ही खेलभावना की बेहतरीन मिसाल पेश की। पाकिस्तानी पारी का 21वां ओवर था और शाहीन शाह अफरीदी स्ट्राइक पर थे, तभी शॉ ने इस वाकये  से बता दिया कि क्रिकेट को क्यों भद्रजनों का खेल कहा जाता है। 21वें ओवर की तीसरी गेंद रियान पराग ने फेंकी, दूसरी गेंद पर वो हसन रजा को आउट कर चुके थे। तीसरी गेंद पर स्लिप में पृथ्वी शॉ ने कैच लपका और आउट की अपील हुई। अंपायर भी शाहीन को आउट देने ही वाले थे कि पृथ्वी ने अंपायर को बताया कि वो इस कैच को लेकर एकदम निश्चित नहीं हैं कि वाक़ई में कैच हुआ है और इसको दोबारा चेक करने के लिए कहा। पृथ्वी को लगा था कि उन्होंने कैच सफाई से नहीं लिया है। अंपायर ने पृथ्वी के इस आग्रह पर तीसरे अंपायर से कैच चेक करने के लिए कहा। तीसरे अंपायर ने जब चेक किया तो पता चला कि शॉ के कैच लपकने से पहले गेंद जमीन पर टप्पा खा चुकी थी। इस तरह से शाहीन उस गेंद पर नॉटआउट करार दिए गए। कॉमेंटेटरों ने भी इस बात के लिए पृथ्वी की तारीफों के पुल बांधे, हालांकि शाहीन इस जीवनदान का फायदा नहीं उठा सके और दो ओवर बाद बिना कोई योगदान दिए पवेलियन लौट गए। भारत ने पाकिस्तान के सामने जीत के लिए 273 रनों का लक्ष्य रखा था। मैन ऑफ द मैच शुभमान गिल ने 102 रन की नाबाद पारी खेली और ईशान पोरेल ने चार विकेट चटकाए। जवाब में पाकिस्तान की पूरी टीम 69 रनों पर ही ऑलआउट हो गई। जिससे भारत ये मैच 203 रन से जीत फाइनल में पहुंच गया। अब फाइनल में 3 फरवरी को भारत को ऑस्ट्रेलिया से भिड़ना है। जबकि पाकिस्तान तीसरे पायदान के लिए अफ़ग़ानिस्तान से खेलेगी। Published 30 Jan 2018, 12:15 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit