Create
Notifications

पाकिस्तानी ख़िलाड़ी शाहजैब हसन को फिक्सिंग के आरोप में एक साल के लिए निलंबित किया गया

Rahul

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने राष्ट्रीय टीम के बल्लेबाज शाहजैब हसन को स्पॉट फिक्सिंग के मामले में एक साल के लिए निलंबित कर दिया है। पिछले साल पाकिस्तान सुपर लीग में उन्हें स्पॉट फिक्सिंग का दोषी पाया गया था, जिसके चलते उन्हें एक साल के लिए निलंबित किया गया है और साथ ही उनपर 10 लाख रूपए का जुर्माना भी लगाया गया है। पीएसएल में हसन के साथ स्पॉट फिक्सिंग में पांच और पाकिस्तानी ख़िलाड़ी शामिल रहे, जिसमें नासिर जमशेद, शरजील खान, मोहम्मद इरफ़ान, मोहम्मद नवाज़ और खालिद लतीफ़ का नाम शामिल हैं। शाहजैब हसन को फिक्सिंग के नियमों के तहत आर्टिकल 2.4.4, जिसमें दोषी पाए जाने और आर्टिकल 2.4.5, जिसमें एंटी-करप्शन यूनिट के खिलाफ फेल होने पर दोषी पाया गया, इसके लिए उन्हें जुर्माना और प्रतिबन्ध का सामना करना पड़ा है। शाहजैब हसन के निलंबित होने को लेकर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के क़ानूनी सलाहकार तैफजुल रिजवी ने कहा कि पीएसएल स्कैंडल में फंसे एक और ख़िलाड़ी को आज एक साल के लिए बैन किया गया है। इन खिलाड़ियों के लगातार निलंबित करने पर पाकिस्तान के युवा खिलाड़ियों को सीख मिलेगी कि वह इन सब गतिविधियों से दूर रहे। पाकिस्तान सुपर लीग के पिछले संस्करण में 6 खिलाड़ियों को स्पॉट फिक्सिंग का दोषी पाया गया था। शाहजैब हसन के साथ 5 खिलाड़ियों को भी क्रिकेट से निलंबित कर दिया गया। शरजील खान और खालिद लतीफ़ को 5 साल, मोहम्मद इरफ़ान और नासिर जमशेद को 1 साल व मोहम्मद नवाज़ को 2 महीने का प्रतिबन्ध झेलना पड़ा था। शाहजैब हसन ने पाकिस्तान के लिए 3 एकदिवसीय और 10 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में शिरकत की है और इसके साथ ही साल 2009 में वह पाकिस्तानी टीम के भी सदस्य रहे, जिसने टी20 विश्व कप को अपने नाम किया था। इस विश्व कप में उन्होंने 4 मैच खेले, जिसमें 77 रन बनाये। लॉर्ड्स में फाइनल मुकाबले में भी शाहजैब हसन ने पाकिस्तान की जीत में 19 रनों का योगदान दिया था।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...