भारतीय बल्लेबाज ने खेली 199 रनों की शानदार पारी, जबरदस्त जीत से टीम ने बनाई फाइनल में जगह 

अंश गोसाई दोहरा शतक बनाने से चूक गए
अंश गोसाई दोहरा शतक बनाने से चूक गए

विजयवाड़ा में अंडर-19 टीमों के बीच खेली जा रही चतुष्कोणीय सीरीज (Quadrangular Under-19 Series) में 24 नवंबर को दो मुकाबले हुए। सीरीज के 11वें मैच में इंग्लैंड ए ने बांग्लादेश ए को 68 रनों से हराया लेकिन टीम फाइनल में जगह बनाने से चूक गई। वहीं, 12वें मैच में भारत ए को हार मिली और भारत बी ने 70 रनों से एक शानदार जीत के दम पर खिताबी मुकाबले के लिए फाइनल में जगह बनाई। इंग्लैंड ए और भारत बी के अपने-अपने आखिरी मुकाबले में जीत के बाद बराबर अंक थे लेकिन बेहतर नेट रन रेट की वजह से भारत बी ने फाइनल में प्रवेश किया।

आइये नजर डालते हैं दोनों मुकाबलों के हाल पर:

पहले मैच में इंग्लैंड ए ने बल्लेबाजी करते हुए 49.3 ओवर में अपने सभी विकेट खोकर 265 रन बनाये। टीम की तरफ से ल्यूक बेंकेंस्टीन ने सबसे ज्यादा 79 रनों की पारी खेली। वहीं हमजा शेख ने भी 41 रनों का योगदान दिया। 266 के लक्ष्य के जवाब में बांग्लादेश की टीम 43.1 ओवर में 197 के स्कोर पर ऑलआउट हो गई। अरिफुल इस्लाम ने सबसे ज्यादा 56 रन बनाये लेकिन अन्य बल्लेबाज फ्लॉप रहे। इंग्लैंड के ल्यूक बेंकेंस्टीन (78 गेंद 79 और 1/25) को ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुने गए।

दूसरे मैच में भारत बी ने 50 ओवर में 314/8 का बड़ा स्कोर बनाया। अंश गोसाई ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और दोहरे शतक से चूकने से पहले 165 गेंदों में 21 चौके और 9 छक्के की मदद से 199 रनों की पारी खेली। कप्तान किरण चोरमाले ने 35 रनों का योगदान दिया। लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ए 37.3 ओवर में 244 रन बनाकर ढेर हो गई और उसे सीरीज में लगातार पांच जीत के बाद अपनी पहली हार का सामना करना पड़ा। हालाँकि, हार के बावजूद टीम को कोई फ़र्क़ नहीं पड़ा, क्योंकि उसने पहले ही फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली थी। भारत बी के अंश गोसाई को बेहतरीन पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

27 नवंबर को चतुष्कोणीय सीरीज के फाइनल में भारत ए और भारत बी के बीच टक्कर होगी। वहीं तीसरे स्थान के लिए इंग्लैंड ए और बांग्लादेश ए के बीच मुकाबला खेला जायेगा।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar