Create

राहुल द्रविड़ के उस धीमी पारी की वजह से मुझे गोल्ड मेडल जीतने में मदद मिली थी, दिग्गज का खुलासा

Second Test - Australia v India: Day 2
Second Test - Australia v India: Day 2

भारत को 2008 में शूटिंग में गोल्ड मेडल जिताने वाले अभिनव बिंद्रा (Abhinav Bindra) ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि किस तरह पूर्व दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) की एक बेहद धीमी पारी की वजह से उन्हें ये गोल्ड मेडल जीतने में मदद मिली थी। अभिनव बिंद्रा ने ये खुलासा अपने पोडकास्ट पर खुद राहुल द्रविड़ से बातचीत के दौरान किया।

दरअसल भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच जनवरी 2008 में सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में टेस्ट मैच खेला जा रहा था। राहुल द्रविड़ 18 रन बनाकर खेल रहे थे लेकिन उन्होंने इसके बाद 40 डॉट बॉल खेली और तब जाकर अपना 19वां रन बनाया। जैसे ही राहुल द्रविड़ ने 19वां रन लिया सिडनी के क्राउड ने खड़े होकर उनका स्वागत किया।

मुझे उस पारी से काफी बड़ी सीख मिली - अभिनव बिंद्रा

अभिनव बिंद्रा ने बताया कि राहुल द्रविड़ की इस पारी से उनके ऊपर काफी असर पड़ा था और वो गोल्ड मेडल जीतने में सफल रहे थे। उन्होंने राहुल द्रविड़ से बातचीत के दौरान कहा,

मैं आपको एक चीज के बारे में बताना चाहता हूं। आपने मेरे करियर में एक बहुत बड़ा रोल अदा किया है। मेरे हिसाब से आपकी वो पारी काफी अहम थी क्योंकि इससे मुझे काफी कुछ सीखने का मौका मिला। ये वो मुकाबला था जहां आपने 40 डॉट गेंदों के बाद रन बनाया था। जनवरी 2008 का समय था और उसी साल ओलंपिक का भी आयोजन होना था। मैं फिटनेस कैंप के लिए ऑस्ट्रेलिया में ही था। मैं अपने करियर में उस वक्त पहला शॉट लेने के लिए काफी संघर्ष कर रहा था। इसकी वजह ये थी कि मैं काफी नर्वस हो जाता था। मेरे दिल की धड़कन बढ़ जाती थी और मैं अपना धैर्य खो देता था।
जब मैंने टीवी पर देखा कि आपने एक रन बनाने के लिए 40 गेंदों तक का इंतजार किया तो इससे मुझे काफी बड़ी सीख मिली। इसलिए मैं आपको धन्यवाद देना चाहता हूं। उस पारी का रोल काफी अहम रहा। इंडियन स्पोर्ट्स हिस्ट्री में उसका असर पड़ा क्योंकि उस ओलंपिक में इससे काफी मदद मिली।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment