Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

राहुल द्रविड़ ने महेंद्र सिंह धोनी के लिए दिया अहम बयान

  • महेंद्र सिंह धोनी और राहुल द्रविड़ एक साथ खेल चुके हैं
  • पाकिस्तान दौरे पर महेंद्र सिंह धोनी गए थे और राहुल द्रविड़ कप्तान थे
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
न्यूज़
Modified 11 Jun 2020, 19:32 IST
महेंद्र सिंह धोनी
महेंद्र सिंह धोनी

पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने महेंद्र सिंह धोनी की तारीफ की है। राहुल द्रविड़ ने कहा कि करियर के श्रेष्ठ समय में महेंद्र सिंह धोनी के खेल से ऐसा लगता था जैसे उन्हें परिणाम की परवाह नहीं है। राहुल द्रविड़ ने इसे एक कौशल बताया और कहा कि ऐसी स्किल मेरे अंदर कभी नहीं आई। राहुल द्रविड़ की कप्तानी में भी धोनी खेल चुके हैं।

संजय मांजरेकर के साथ ESPNCricinfo के लिए बातचीत करते हुए राहुल द्रविड़ ने कहा कि बेस्ट समय के दौरान मैच के अंत में महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी देखो। राहुल द्रविड़ ने यह भी कहा कि ऐसा लगता था कि वह खुद के लिए कुछ स्पेशल कर रहे हैं। खेल को देखकर लगता था कि उन्हें रिजल्ट की परवाह नहीं है।

राहुल द्रविड़ ने की महेंद्र सिंह धोनी की तारीफ

राहुल द्रविड़ ने महेंद्र सिंह धोनी के खेल को लेकर कहा कि यह कौशल स्वतः ही आता है। राहुल द्रविड़ ने कहा कि यह ऐसी स्किल है जो मेरे अंदर कभी नहीं थी। आगे राहुल द्रविड़ ने कहा कि हर निर्णय का परिणाम मेरे लिए मायने रखता था। यह महेंद्र सिंह धोनी को पूछना होगा कि उनके अन्दर यह कौशल स्वतः आया या उन्होंने इस पर काम किया था।

द्रविड़-धोनी
द्रविड़-धोनी

गौरतलब है कि महेंद्र सिंह धोनी ने राहुल द्रविड़ की कप्तानी में पाकिस्तान में 2006 में वनडे सीरीज खेली थी। भारत ने उस सीरीज को 4-1 से जीता था। युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी ने उस सीरीज में बेहतरीन खेल दिखाया था। धोनी के उस प्रदर्शन ने उन्हें विश्व के श्रेष्ठ फिनिशर बना दिया। उस समय वे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में काफी नए भी थे।

पिछले साल इंग्लैंड में हुए वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी पर सवाल खड़े हुए थे। आलोचकों ने कहा था कि धोनी ने मैच जीतने का प्रयास तक नहीं किया और खड़े होकर गेंद खेलते रहे। मैच में हार के बाद भारत टूर्नामेंट से बाहर हो गया और धोनी की काफी आलोचना हुई। उस मैच के बाद महेंद्र सिंह धोनी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में नहीं दिखे हैं। पिछले एक साल से वे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सहित सभी तरह के क्रिकेट से दूर हैं। आईपीएल में उनके बल्ले से धमाकेदार खेल की उम्मीद थी लेकिन कोरोना वायरस के कारण यह संभव नहीं हुआ।

Published 11 Jun 2020, 19:32 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit