Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

राहुल द्रविड़ द्वारा सभी फॉर्मेट में खेले गए आखिरी मैच में किए गए प्रदर्शन पर एक नजर

राहुल द्रविड़ ने 2012 में लिया था संन्यास
FEATURED COLUMNIST
Modified 03 Jul 2020, 10:44 IST
फ़ीचर
Advertisement

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने मार्च 2012 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया था। अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर में द्रविड़ ने 509 मुकाबले खेले, जिसमें उन्होंने 24 हजार से ज्यादा रन बनाए। इस बीच उन्होंने 48 शतक भी लगाए।

राहुल द्रविड़ सिर्फ भारतीय टीम के महान बल्लेबाज ही नहीं थे, बल्कि एक शानदार कप्तान भी थे। उनकी कप्तानी में भारत ने इंग्लैंड और वेस्टइंडीज में ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज जीती थी। राहुल द्रविड़ ने 2011 में वनडे और टी20 में अपने करियर का आखिरी मुकाबला खेला था, तो 2012 में अपने टेस्ट करियर का आखिरी मैच खेला।

यह भी पढ़ें: युवराज सिंह द्वारा सभी फॉर्मेट में खेले गए आखिरी मैच में किए गए प्रदर्शन पर एक नजर

इस आर्टिकल में हम नजर डालेंगे राहुल द्रविड़ द्वारा तीनों फॉर्मेट में उनके द्वारा किए गए प्रदर्शन पर:

1- आखिरी टेस्ट (24-28 जनवरी 2012) बनाम ऑस्ट्रेलिया, एक और 25 रन

राहुल द्रविड़ अपने आखिरी टेस्ट में कुछ खास नहीं कर पाए थे
राहुल द्रविड़ अपने आखिरी टेस्ट में कुछ खास नहीं कर पाए थे

राहुल द्रविड़ ने अपने टेस्ट करियर में 164 मुकाबले खेले, जिसमें 52.31 की औसत से 13288 रन बनाए। इस बीच उन्होंने 36 शतक भी लगाए। उनके करियर का सर्वाधिक स्कोर 270 रन रहा। द्रविड़ के नाम टेस्ट क्रिकेट में एक विकेट भी हैं।

2011-2012 में भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर राहुल द्रविड़ ने अपने टेस्ट करियर का आखिरी मुकाबला खेला था। एडिलेड में खेले गए इस टेस्ट मुकाबले में राहुल द्रविड़ ने पहली पारी में एक, तो दूसरी पारी में 25 रन ही बनाए। भारत इस मैच को 298 रनों से हार गया था। यह द्रविड़ के इंटरनेशनल करियर का आखिरी मैच भी था और मार्च 2012 में उन्होंने संन्यास का ऐलान कर दिया था।

यह भी पढ़ें: वीरेंदर सहवाग द्वारा सभी फॉर्मेट में खेले गए आखिरी मैच में किए गए प्रदर्शन पर एक नजर

1 / 3 NEXT
Published 07 Jun 2020, 11:28 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit