Create

ऋद्धिमान साहा के चौंकाने वाले आरोपों पर हेड कोच राहुल द्रविड़ की बड़ी प्रतिक्रिया 

Australia v India: 3rd Test: Day 4
Australia v India: 3rd Test: Day 4

ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) के आरोपों पर इंडियन क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के हेड कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि साहा ने उनके लिए जो बयान दिया है, उससे वो दुखी नहीं हैं। द्रविड़ ने कहा कि ऋद्धिमान साहा के लिए उनके मन में काफी इज्जत है।

दरअसल ऋद्धिमान साहा को श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम में शामिल नहीं किया गया था। इसके बाद उन्होंने हेड कोच राहुल द्रविड़ और बीसीसीआई प्रेसिडेंट सौरव गांगुली पर बड़ा आरोप लगाया था। पत्रकारों से बातचीत में साहा ने कहा,

टीम मैनेजमेंट ने मुझसे कहा था कि अब मेरा चयन नहीं होगा। चूंकि मैं अभी तक इंडियन टीम के सेटअप का हिस्सा था, इसलिए इस बारे में बता नहीं सकता था। यहां तक कि कोच राहुल द्रविड़ ने कहा था कि मुझे रिटायरमेंट लेने के बारे में सोचना चाहिए। इसके अलावा जब कानपुर टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ मैंने पेन किलर लेकर नाबाद 61 रन बनाए थे तो दादा (सौरव गांगुली) ने मेरी काफी तारीफ की थी। उन्होंने व्हाट्सएप्प पर मुझे मैसेज किया था और बधाई दी थी। उन्होंने यहां तक कहा कि जब तक मैं बीसीसीआई का प्रेसिडेंट हूं तुम्हें चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। बोर्ड प्रेसिडेंट की तरफ से ये बातें सुनकर मेरा कॉन्फिडेंस काफी बढ़ गया था। हालांकि अब मैं समझ नहीं पा रहा हूं कि सबकुछ इतना जल्दी कैसे बदल गया।

मुझे साहा के बयान से दुख नहीं हुआ - राहुल द्रविड़

वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज में जीत के बाद ऋद्धिमान साहा के बयानों को लेकर राहुल द्रविड़ से सवाल पूछा गया। उनसे पूछा गया कि क्या वो साहा के बयान से दुखी हैं। इसके जवाब में राहुल द्रविड़ ने कहा,

टी20 सीरीज में मिली जीत की बधाई देने के लिए धन्यवाद (हंसते हुए)। नहीं मैं उनके बयान से बिल्कुल भी दुखी नहीं हूं। साहा ने इंडियन क्रिकेट के लिए जो किया है उसको लेकर मैं उनकी काफी इज्जत करता हूं। मेरी उनसे बातचीत हुई थी। मैं नहीं चाहता कि वो मीडिया के जरिए ये बातें सुनें। मैं इस तरह की बातचीत लगातार प्लेयर्स से करता रहता हूं। मुझे साहा के बयान से इसलिए दुख नहीं हुआ कि क्योंकि हर प्लेयर मेरी बात से सहमत नहीं होगा।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment