Create

राहुल द्रविड़ ने अपने टेस्ट डेब्यू को लेकर दिया बड़ा बयान

राहुल द्रविड़ ने अपना टेस्ट डेब्यू 1996 में किया था
राहुल द्रविड़ ने अपना टेस्ट डेब्यू 1996 में किया था
Nitesh

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के हेड कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने अपने टेस्ट डेब्यू को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि उन्हें अपना टेस्ट डेब्यू आज भी काफी अच्छी तरह से याद है। द्रविड़ के मुताबिक ये एक ऐसी चीज है जिसे वो कभी नहीं भूल सकते हैं।

राहुल द्रविड़ ने अपना टेस्ट डेब्यू 20 जून, 1996 को लॉर्ड्स में किया था। राहुल द्रविड़ ने अपने डेब्यू टेस्ट मुकाबले में 95 रनों की शानदार पारी खेली थी और उसके बाद से उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और भारत के सर्वकालिक महान बल्लेबाजों में से एक बने। राहुल द्रविड़ के नाम टेस्ट क्रिकेट में तीसरे नंबर पर खेलते हुए सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है। उनके पूरे टेस्ट करियर की बात की जाए तो उन्होंने कुल 286 पारियों में 52.31 की औसत से 13,288 रन बनाए जिसमें 36 शतक और 63 अर्धशतक शामिल थे। टेस्ट क्रिकेट में उनका उच्चतम स्कोर 270 रन रहा।

मुझे अपना टेस्ट डेब्यू आज भी काफी अच्छी तरह से याद है - राहुल द्रविड़

ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा के पोडकास्ट पर बातचीत के दौरान राहुल द्रविड़ ने अपने टेस्ट डेब्यू को याद किया।

उन्होंने कहा 'मेरे करियर की कई सारी ऐसी चीजें हैं जिन्हें मैं भूल चुका हूं लेकिन वो टेस्ट डेब्यू जैसे लगता है कल की ही बात हो। भारत के लिए टेस्ट मैच खेलने का सौभाग्य मिलना एक ऐसी चीज है जिसे मैं आज भी काफी अच्छी तरह से याद कर सकता हूं। टॉस के 10 मिनट पहले ही कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने आकर कहा कि मैं खेल रहा हूं क्योंकि संजय मांजरेकर फिटनेस टेस्ट में फेल हो गए थे। मैं उस वक्त पैनिक और नर्वस था लेकिन साथ ही काफी खुश भी था, क्योंकि मेरा सपना पूरा हो रहा था।'


Edited by Nitesh

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...