राहुल द्रविड़ को मिली नेशनल क्रिकेट एकेडमी में युवा खिलाड़ियों को निखारने की जिम्मेदारी

Enter caption

एक वक्त भारतीय टीम की दीवार बनकर खड़े रहने वाले राहुल द्रविड़ अब युवा खिलाड़ियों को अपनी तरह बनाने के लिए मेहनत करेंगे। राहुल को बेंगलुरु स्थित नैशनल क्रिकेट एकेडमी (एनसीए) में भारतीय क्रिकेट के युवा खिलाड़ियों को प्रशिक्षण देने और उन खिलाड़ियों के हुनर को निखारने की जिम्मेदारी दी गई है। हालांकि, पहले से ही राहुल द्रविड़ इंडिया अंडर-19 और इंडिया ए टीम के कोच की भूमिका निभा रहे हैं। उन्होंने भारत की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम में भी कोच के रूप में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया था।

सुनने में आ रहा है कि राहुल द्रविड़ के पद और नाम की अभी तक कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिल सकी है। फिर भी उनकी इस भूमिका को लेकर प्रशासक समिति (सीओए) जल्द ही आधिकारिक पुष्टी कर सकती है। खबर है कि राहुल द्रविड़ राष्ट्रीय क्रिकेट एकेडमी में देशभर की अकैडमी में कोचों की नियुक्ति भी करेंगे। राहुल कुछ समय से जूनियर क्रिकेट को संभाले हुए हैं। इस दौरान उन्होंने बेहतरीन परिणाम दिए हैं, जिसे देखते हुए उन्हें यह नई जिम्मेदारी सौंपने की योजना बनाई गई।

खबर मिली है कि राहुल भी नेशनल क्रिकेट एकेडमी से जुड़ने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं। इसकी वजह यह है कि उनके पास एकेडमी को आगे ले जाने की कई योजनाएं हैं। उनकी कोशिश है कि वह एनसीए से जुड़कर भारतीय क्रिकेट के लिए बेहतरीन खिलाड़ियों की पौध तैयार करने में मदद करें। एनसीए अब उनके बच्चे की तरह ही होगी। वह वहां पर युवा क्रिकेटरों को निखारते हुए नजर आएंगे। यही नहीं, वह युवा खिलाड़ियों को बड़ी से बड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए भी तैयार करेंगे। राहुल द्रविड़ एनसीए में आने वाले खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दे सकें इसके लिए वहां हर तरह की सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। राहुल द्रविड़ ने क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद कोच के रूप में भारतीय क्रिकेट से जुड़ने का फैसला किया थी। उनकी ही निगरानी में पृथ्वी शाह, शुबमन गिल और मयंक अग्रवाल जैसे युवा क्रिकेटर आगे बढ़े हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Quick Links

App download animated image Get the free App now