"नीलामी शुरु करेंगे तो कोई IPL खेलने नहीं जाएगा"- PSL को लेकर दिए अपने बयान से अब रमीज राजा ने मारी पलटी

चेयरमैन बनने के बाद लगातार बयान देते रहे हैं रमीज राजा
चेयरमैन बनने के बाद लगातार बयान देते रहे हैं रमीज राजा

दुनियाभर के कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो लगातार फ्रेंचाइजी टी20 लीग खेलते रहते हैं। कुछ मौकों पर देखा गया है कि खिलाड़ियों ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में खेलने के लिए अन्य टी20 लीग्स को छोड़ा है। पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) के साथ भी ऐसा हो चुका है खिलाड़ियों ने IPL में खेलने के लिए इस लीग को छोड़ा है। हाल ही में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) के चेयरमैन रमीज राजा (Ramiz Raja) का एक बयान काफी चर्चा में रहा था।

एक इंटरव्यू के दौरान राजा ने कहा था कि यदि वह PSL में भी नीलामी शुरु कर दें और पर्स को बढ़ा दें तो खिलाड़ी PSL में ही खेलेंगे और वह देखेंगे कि कौन फिर IPL खेलने के लिए जाएगा। राजा का यह बयान IPL का 15वां सीजन शुरु होने से ठीक पहले आया था, लेकिन अब उन्होंने अपने इस बयान से पलटी मार ली है। राजा ने अब कहा है,

मेरी बात को गलत तरीके से समझा गया था। मुझे पता है कि भारत और पाकिस्तान की इकॉनमी में कितना अंतर है। हमारे पास PSL को सुधारने के प्लान हैं। हम नीलामी के मॉडल को अमल में लाएंगे, लेकिन दूसरे हिस्से को लेकर मेरी बात को गलत तरीके से समझ लिया गया था।

IPL और PSL में है जमीन-आसमान का अंतर

IPL और PSL में शामिल पैसों की बात करें तो दोनों लीग में जमीन-आसमान का अंतर है। PSL की विजेता टीम को लगभग 3.5 करोड़ रुपये की प्राइज मनी मिली थी, लेकिन IPL विजेता को मिलने वाली राशि इसकी लगभग पांच गुना है। IPL विजेता टीम को पिछले सीजन 20 करोड़ रुपये मिले थे और इस सीजन भी यही राशि दी जाने वाली है।

PSL में ड्रॉफ्ट सिस्टम होने के कारण खिलाड़ियों को कैटेगरी के हिसाब से पैसे मिलते हैं और सबसे ऊंची कैटेगरी में रहने वाला खिलाड़ी भी 1.5 करोड़ रुपये से कम ही पाता है। IPL की बात करें तो खिलाड़ी 17 करोड़ रुपये तक की कमाई एक सीजन में कर रहे हैं। तमाम खिलाड़ी 10 करोड़ रुपये और कई 5-10 करोड़ रुपये के बीच में कमाई कर रहे हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now