Ranji Trophy: दिल्ली टीम पर लगा भेदभाव का आरोप, सबक सिखाने के लिए आयुष बदोनी को किया बाहर, जानिए पूरा मामला

(Photo Courtesy: Instagram)
(Photo Courtesy: Instagram)

भारत में इस समय घरेलू क्रिकेट का प्रतिष्ठित टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) खेला जा रहा है। इस टूर्नामेंट में लगातार एक से बढ़कर एक मुकाबले खेले जा रहे हैं। हालांकि इसी टूर्नामेंट के बीच एक चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है। दरअसल, दिल्ली (Delhi) की टीम पर आयुष बदोनी (Ayush Badoni) के साथ भेदभाव का आरोप लगा है। पिछले कुछ समय से खराब फॉर्म से जूझ रहे आयुष बदोनी को सबक सिखाने के लिए दिल्ली की टीम ने होटल में ही रुकने को कहा है।

आरोप लगाए जा रहे हैं कि दिल्ली के सीनियर अधिकारियों ने आयुष बदोनी के साथ यह भेदभाव किया है। दिल्ली क्रिकेट संघ के एक अधिकारी ने पीटीआई से गोपनीयता बनाए रखने की शर्त पर बताया, ‘क्षितिज शर्मा को खिलाने का काफी दवाब था और आयुष बदोनी को 15 खिलाड़ियों से बाहर रखना था, ताकि उन्हें बीसीसीआई से मिलने वाली मैच फीस भी नहीं मिल सके। बीसीसीआई से मिलने वाली मैच फीस सिर्फ 15 खिलाड़ियों को ही मिलती है। आयुष को पीएमओए में आने की अनुमति नहीं दी जा सकती थी, इसलिए उन्हें होटल में ही रुकने को कहा गया।’

उत्तराखंड के खिलाफ हो रहे मुकाबले में आयुष को मैदान पर भी नहीं लाया गया। इसे लेकर अधिकारी ने कहा, ‘टीम मैंनेजरों को आयुष के खाने का इंतजाम अलग से करना पड़ता क्योंकि बीसीसीआई इसके लिए भुगतान नहीं करती। वह मैच के ब्रेक के दौरान भी नेट्स पर नहीं जा पाते, क्योंकि पंजाब क्रिकेट संघ का शिविर चल रहा है। इसी कारण उन्हें मैदान पर ना बुलाकर होटल में रहने को कहा गया।’

बदोनी को बाहर करने के बाद भी दिल्ली की टीम की स्थिति नहीं सुधरी और उत्तराखंड के खिलाफ ग्रुप-डी के मैच में अपनी पहली पारी में सिर्फ 147 रन बनाकर ऑलआउट हो गई। टीम पर एक बार फिर हार का खतरा मंडरा रहा है।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar