रणजी ट्रॉफी राउंड-अप: विनय कुमार की शानदार हैट्रिक, मयंक अग्रवाल एक और शतक की ओर अग्रसर

रणजी ट्रॉफी 2017-18 सीजन के चारों क्वार्टरफाइनल आज से शुरू हुए। नागपुर में कर्नाटक का सामना मुंबई से, जयपुर में गत विजेता गुजरात का सामना बंगाल से, विजयवाड़ा में दिल्ली का सामना मध्य प्रदेश से और सूरत में विदर्भ का सामना केरल से हो रहा है। आइये नज़र डालते हैं सभी क्वार्टरफाइनल मैचों के पहले दिन के खेल पर: # कर्नाटक vs मुंबई, नागपुर विनय कुमार ने हैट्रिक सहित 6 विकेट लेकर पहले दिन ही मुंबई को बैकफुट पर भेज दिया। पहले ओवर की आखिरी गेंद पर पृथ्वी शॉ को आउट करने के बाद विनय कुमार ने अपने दूसरे ओवर की पहली गेंद पर जय बिष्टा और आकाश पारकर को आउट किया। मुंबई की टीम का स्कोर एक समय 103/9 था, लेकिन धवल कुलकर्णी ने अंत में 75 रनों की शानदार पारी खेलकर टीम को 173 के स्कोर तक पहुंचाया। विनय कुमार के अलावा श्रीनाथ अरविन्द ने दो विकेट लिए। टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लेने वाली कर्नाटक में जवाब में पहले दिन स्टंप्स तक 115/1 का स्कोर बना लिया था और जबरदस्त फॉर्म में चल रहे मयंक अग्रवाल 62 और कुनैन अब्बास 12 रन बनाकर नाबाद थे। आर समर्थ 40 रन बनाकर आउट हुए। # गुजरात vs बंगाल, जयपुर गुजरात ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का निर्णय लिया और एक समय बंगाल का स्कोर 59/4 था। यहाँ से अभिमन्यु इश्वरन (129) ने शानदार पारी खेलकर और अनुस्तुप मजुमदार (94) के साथ पांचवें विकेट के लिए 175 रन जोड़कर टीम को संभाला। पहले दिन स्टंप्स से पहले दोनों बल्लेबाज आउट हो गए और बंगाल का स्कोर 261/6 था। इश्वर चौधरी ने अभी तक तीन और चिंतन गजा ने दो विकेट लिये हैं। # दिल्ली vs मध्य प्रदेश, विजयवाड़ा दिल्ली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया और मध्य प्रदेश ने पहले दिन स्टंप्स तक 223/6 का स्कोर बना लिया है। अंकित दाने ने 59 रनों की पारी खेली। नमन ओझा ने 49 रन बनाये और हरप्रीत सिंह 47 रन बनाकर नाबाद हैं। दिल्ली की तरफ से अभी तक विकास मिश्रा ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए हैं। # विदर्भ vs केरल, सूरत बारिश के कारण पहले दिन सिर्फ 24 ओवरों का खेल हो सका और स्टंप्स के समय विदर्भ का स्कोर 45/3 था। केरल की तरफ से केसी अक्षय ने अभी तक सबसे ज्यादा दो विकेट लिए हैं। वसीम जाफर (12), कप्तान फैज़ फज़ल (2) और शानदार फॉर्म में चल रहे संजय रामास्वामी (17) आज फ्लॉप रहे।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment