टी20 में द्विपक्षीय सीरीज कम होनी चाहिए, रवि शास्त्री ने बिजी शेड्यूल को लेकर दी प्रतिक्रिया

India v New Zealand - ICC World Test Championship Final: Day 3
India v New Zealand - ICC World Test Championship Final: Day 3

भारतीय टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने टी20 क्रिकेट में द्विपक्षीय सीरीज कम करने की बात कही है। उन्होंने कहा है कि इन दिनों टी20 सीरीज का आयोजन काफी ज्यादा हो रहा है और बिजी शेड्यूल को देखते हुए इसे कम किया जाना चाहिए।

दरअसल इंग्लैंड के ऑलराउंड खिलाड़ी बेन स्टोक्स ने अचानक वनडे क्रिकेट से संन्यास ले लिया। उन्होंने अपने संन्यास का कारण बिजी शेड्यूल को बताया और कहा कि लगातार इतना सारा क्रिकेट खेलना काफी मुश्किल हो रहा था। इसी वजह से उन्होंने अपने संन्यास का ऐलान कर दिया।

बेन स्टोक्स के संन्यास के बाद पूरी दुनिया में अब द्विपक्षीय सीरीज के ज्यादा आयोजन पर सवाल उठने लगे हैं। हर कोई बिजी शेड्यूल की बात कर रहा है और इसी कड़ी में रवि शास्त्री ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है।

टी20 द्विपक्षीय सीरीज का आयोजन कम हो - रवि शास्त्री

टेलीग्राफ स्पोर्ट्स पर बातचीत के दौरान रवि शास्त्री ने कहा कि एडमिनिस्ट्रेटर्स को ज्यादा टी20 मैचों के आयोजन को लेकर सावधानी बरतनी चाहिए। उन्होंने कहा,

टी20 क्रिकेट में जितनी द्विपक्षीय सीरीज हो रही है उसको लेकर सावधानी बरतनी होगी। कई सारी फ्रेंचाइजी क्रिकेट हैं जिन्हें बढ़ावा दिया जा सकता है, फिर चाहे ये इंडिया, वेस्टइंडीज या पाकिस्तान की ही क्यों ना हो। आप कम द्विपक्षीय सीरीज खेलें और वर्ल्ड कप में इकट्ठा हों, इससे उसकी अहमियत और ज्यादा बढ़ जाएगी।

आपको बता दें कि बेन स्टोक्स ने अपने संन्यास को लेकर कहा कि हम कार नहीं हैं कि आप भरेंगे और हम दौड़ने लगेंगे और दोबारा भरवाने के लिए तैयार रहेंगे। हमने टेस्ट सीरीज खेली, इसके बाद वनडे सीरीज उसी वक्त हो रही थी और ये काफी बकवास है। मेरे हिसाब से काफी ज्यादा क्रिकेट हो रही है और तीनों फॉर्मेट खेलना मुश्किल हो रहा है।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment