रणजी ट्रॉफी शुरू नहीं होने को लेकर रवि शास्त्री की बड़ी प्रतिक्रिया

रवि शास्त्री ने टूर्नामेंट को रीढ़ की हड्डी कहा है
रवि शास्त्री ने टूर्नामेंट को रीढ़ की हड्डी कहा है

इस साल रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) शुरू होने की तारीख सामने नहीं आई है लेकिन पूर्व भारतीय कोच रवि शास्त्री ने ट्विटर पर इस मामले को लेकर अपनी राय रखी है। रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने रणजी ट्रॉफी शुरू नहीं होने को लेकर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इस टूर्नामेंट को नजरअंदाज करने से भारतीय क्रिकेट बिना रीढ़ की हड्डी की तरह हो जाएगा।

रवि शास्त्री ने ट्विटर पर लिखा कि रणजी ट्रॉफी भारतीय क्रिकेट की रीढ़ की हड्डी है। जिस पल आपने इसे नज़रअंदाज करना शुरू कर दिया, हमारा क्रिकेट बिना रीढ़ की हड्डी का हो जाएगा।

गौरतलब है कि रणजी ट्रॉफी का आयोजन इस महीने 13 जनवरी से शुरू होना था लेकिन कोरोना वायरस की वजह से अब इसमें देरी देखने को मिल रही है। टूर्नामेंट को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है। हालांकि बीसीसीआई ने घरेलू सीजन शुरू करने के लिए राज्य संघों के साथ मीटिंग की है लेकिन कब तक टूर्नामेंट शुरू होगा, इस पर निर्णय नहीं हुआ।

इस बीच बीसीसीआई ट्रेजरर अरुण धूमल ने कहा है कि रणजी ट्रॉफी को दो चरणों में आयोजित कराने की योजना पर बोर्ड काम कर रहा है। फरवरी में एक चरण आयोजित करने के बाद आईपीएल कराया जाए और बाद में रणजी ट्रॉफी का बचा हुआ सीजन आयोजित किया जाए। मीटिंग में बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह भी मौजूद रहे।

भारतीय क्रिकेट के सबसे अहम घरेलू टूर्नामेंटों में रणजी ट्रॉफी को माना जाता है। रणजी ट्रॉफी ने कई दिग्गज खिलाड़ी टीम इंडिया को दिये हैं। शुरुआत के बाद से टूर्नामेंट कभी रुका नहीं लेकिन पिछले दो सालों से कोरोना वायरस की वजह से इसका आयोजन नहीं हो पाया। ऐसे में कहा जा सकता है कि इस टूर्नामेंट की काफी ज्यादा अहमियत है। देखना होगा कि बीसीसीआई की तरफ से इस मामले पर अब क्या निर्णय लिया जाता है।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma