रविचंद्रन अश्विन ने अपने खास टेस्ट विकेटों के बारे में बताया

श्रीलंका के खिलाफ नागपुर टेस्ट में 8 विकेट झटकने वाले रविचंद्रन अश्विन ने 54 टेस्ट मैचों में 300 विकेट लेने का अद्भुत रिकॉर्ड अपने नाम किया है। उन्होंने इस शानदार सफलता के बाद BCCI।TV को दिए एक साक्षात्कार में खुद का सबसे पसंदीदा विकेट के बारे में बताते हैं। उनका यह वार्तालाप फील्डिंग कोच आर श्रीधर के साथ हुआ है।

टेस्ट क्रिकेट में अपनी अब तक की जर्नी के बारे में बात करते हुए अश्विन ने कहा कि 2017 में बेंगलुरु टेस्ट के दौरान ऑस्ट्रेलिया के ओपनर डेविड वॉर्नर का विकेट उनका सबसे खास है। उन्होंने इसे अपना पसंदीदा विकेट बताया है। अश्विन ने कहा कि वैसे कई ख़ास विकेट रहे हैं लेकिन मैं कुछ का जिक्र करना चाहूँगा। मेरा पहला टेस्ट विकेट डैरेन ब्रावो का था और हमेशा ख़ास रहेगा। मैंने डेविड वॉर्नर को भी आउट किया है लेकिन 300 विकेटों में बेंगलुरु टेस्ट के दूसरे दिन की सुबह वॉर्नर का जो विकेट मैंने लिया था, वह विशेष है। इसके अलावा 2015 के नागपुर टेस्ट में एबी डीविलियर्स का विकेट भी नहीं भूला जा सकता है।

इसके अलावा आर अश्विन ने न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन को भी 4 बार आउट किया है और इसे भी ख़ास विकेटों में शामिल किया है। इसके अलावा इंग्लैंड के जो रूट को मुंबई और एलिस्टेयर कुक को मोहाली में आउट करना भी अश्विन नेस्पेशल माना है। अश्विन ने डैरेन सैमी को अपना 100वां शिकार बनाया था। इसके बाद केन विलियमसन उनका 200वां शिकार बने थे। नागपुर टेस्ट में उन्होंने गामागे को अपना 300वां शिकार बनाकर डेनिस लिली के कीर्तिमान को तोड़ते हुए एक नया रिकॉर्ड कायम कर दिया।

अश्विन का पूरा ध्यान अब दिल्ली के फिरोज शाह कोटला मैदान पर होने वाले तीसरे और अंतिम टेस्ट पर है। भारत ने तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त कायम कर ली है। कोलकाता टेस्ट ड्रॉ पर समाप्त हुआ था। अश्विन का प्रदर्शन अगले टेस्ट में भी दिलचस्प रहने की उम्मीद होगी।

Edited by Staff Editor