क्रिकेट

"मैं भारत के लिए सभी प्रारूपों में खेलना चाहता हूं"

रविंद्र जडेजा ने ओवल टेस्ट की पहली पारी में शानदार गेंदबाजी करते हुए 4 विकेट चटकाए

भारतीय टीम के दिग्गज ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा को इस बात का विश्वास है कि वो अभी भी देश के लिए सभी प्रारूपों में खेल सकते हैं। जडेजा इस समय टेस्ट क्रिकेट ही खेलते हैं और अब साफ नजर आ रहा है कि जडेजा इस बात से बिल्कुल भी खुश नहीं है कि वो सिर्फ एक ही फॉर्मेट में खेलते हैं। जडेजा ने इंग्लैंड के खिलाफ चल रहे ओवल टेस्ट की पहली पारी में शानदार गेंदबाजी करते हुए 4 विकेट चटकाए।

जडेजा ने 37 टेस्ट मुकाबलों में 175 विकेट लिए हैं, तो 135 एकदिवसीय मुकाबलों में उन्होंने 155 विकेट चटकाए हैं। इसके अलावा 40 टी20 में जडेजा ने 31 विकेट लिए हैं। साथ ही में रविंद्र जडेजा ने 213 अंतर्राष्ट्रीय मुकाबलों में 3234 रन भी बनाए हैं।


जडेजा ने मीडिया से बात करते हुए कहा, "मेरे लिए सबसे बड़ी बात है कि मैं भारत के लिए खेल रहा हूं और अगर मैं अच्छा करता रहा, तो एक बार फिर तीनों प्रारूपों में खेल सकता हूं। हालांकि अभी मैं सिर्फ मौकों का फायदा उठाते हुए अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं। मैं भारतीय टीम के लिए ऑलराउंडर की भूमिका भी निभा सकता हूं, क्योंकि यह काम मैंने पहले भी किया है।"

ओवल टेस्ट के दूसरे दिन के खेल के बाद इंग्लैंड की टीम मजबूत स्थिति में नजर आ रही है। भारतीय बल्लेबाजों ने एक बार फिर निराशाजनक खेल दिखाया और टीम ने 174 रन तक 6 विकेट गंवा दिए हैं और अभी भी भारत इंग्लैंड के स्कोर से 158 रन पीछे हैं। हनुमा विहारी 25 और रविंद्र जडेजा 8 रन बनाकर खेल रहे हैं।


भारतीय टीम उम्मीद करेगी की तीसरे दिन जडेजा और विहारी अच्छा खेल दिखाते हुए इंग्लैंड के स्कोर के करीब लेकर जाए। इसके साथ ही जडेजा को अपने अनुभव का इस्तेमाल करते हुए भारत को मुश्किल हालातों से निकालना होगा और जडेजा अगर बल्ले के साथ अच्छा करते हैं, तो ऑलराउंडर के तौर पर अपनी दावेदारी पेश कर सकते हैं।