Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

IPL 2018: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कुछ खिलाड़ियों को देना होगा यो-यो टेस्ट

SENIOR ANALYST
Modified 21 Sep 2018, 20:24 IST
Advertisement

इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन के लिए नीलामी खत्म हो चुकी है। पिछले सीजन के खराब प्रदर्शन को पीछे छोड़ते हुए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम इस बार के सीजन में बेहतर प्रदर्शन करना चाहेगी। वहीं द् हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक आरसीबी के कुछ खिलाड़ियों को 11वें सीजन से पहले यो-यो टेस्ट पास करना होगा। रिपोर्ट के मुताबिक पवन नेगी, नवदीप सैनी और कुलवंत खेजरोलिया को फिटनेस के लिए यो-यो टेस्ट पास करना होगा। गौरतलब है विराट कोहली भारतीय टीम में भी यो-यो टेस्ट को लेकर काफी सजग रहते हैं और यही वजह है कि टीम के कई खिलाड़ियों को वहां भी यो-यो टेस्ट से गुजरना पड़ा था। सुरेश रैना और युवराज सिंह जैसे खिलाड़ी लंबे समय तक इस टेस्ट को पास नहीं कर पाए थे और इसी वजह से उन्हें टीम में भी जगह नहीं मिली थी। हाल ही में दोनों खिलाड़ियों ने इस टेस्ट को पास किया था और सुरेश रैना को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए टीम में चुन लिया गया है। रैना ने सैय्यद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी में भी जबरदस्त प्रदर्शन किया था। 27 और 28 जनवरी को बेंगलुरु में आईपीएल के अगले सीजन के लिए खिलाड़ियों की बोली लगी। इस बार आरसीबी की टीम ने शानदार गेंदबाजों का चुनाव नीलामी के दौरान किया और कुल मिलाकर 24 खिलाड़ियों को खरीदा। इसके अलावा रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने नीलामी से पहले कप्तान विराट कोहली, एबी डीविलियर्स और अनकैप्ड सरफराज खान को रिटेन किया था। नीलामी में आरसीबी के लिए क्रिस वोक्स सबसे महंगे खिलाड़ी रहे, जिन्हें 7.4 करोड़ में खरीदा गया।  रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने नीलामी में 79.85 करोड़ रूपये खर्च किये, जिसमें रिटेन किये गये खिलाड़ियों को दी गई रकम भी शामिल हैं। आईपीएल का 11वां सीजन 7 अप्रैल से खेला जाएगा जिसमें पहला मैच मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच होगा। चेन्नई सुपर किंग्स की टीम 2 साल के निलंबन के बाद आईपीएल में वापसी कर रही है।  

Published 02 Feb 2018, 15:34 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit