हरमनप्रीत कौर की डिग्री विवादों में, डीएसपी पद से हटाया जा सकता है

भारतीय महिला टी20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर की स्नातक की डिग्री फर्जी पाए जाने की बात सामने आने को लेकर उन्हें पंजाब पुलिस के डीएसपी पद से हटाया जा सकता है। उन्हें पंजाब पुलिस में डीएसपी पद पर नियुक्ति दी गई थी लेकिन अब उन्हें सिपाही के पद पर डिमोट किया जा सकता है। टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक पंजाब पुलिस को भारतीय महिला खिलाड़ी को सिपाही का पद देने का आदेश सरकार ने दिया है। गौरतलब है कि हरमनप्रीत कौर इससे पहले भारतीय रेलवे में नौकरी करती थी। हाल ही में उन्हें पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सरकार ने डीएसपी जैसे प्रतिष्ठित पद पर नियुक्ति दी थी। पंजाब सरकार के अतिरिक्त प्रधान सचिव द्वारा कौर को हटाकर सिपाही की पोस्ट देने की बात कही जा रही है। हालाँकि सरकार की तरफ से अभी तक कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया देखने को नहीं मिली है। कौर की डिग्री के सत्यापन के लिए पंजाब पुलिस चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय गई जहां उनकी डिग्री से सम्बंधित कोई रिकॉर्ड नहीं मिला। विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार ने उनका नामांकन नहीं होने की पुष्टि की है। इससे पहले भी यह खिलाड़ी विवादों में रह चुकी हैं। रेलवे में नौकरी के दौरान उनका 5 साल का बोंड था लेकिन इसका उल्लंघन कर उन्होंने 3 साल बाद त्यागपत्र देकर डीएसपी पोस्ट ले ली। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने रेल मंत्री पियूष गोयल से इस बारे में बात करते हुए उन्हें राहत प्रदान की थी। इन सबके बीच हरमनप्रीत कौर के मैनेजर ने इन बातों का खंडन करते हुए कहा है कि हमें सरकार की तरफ से कोई पत्र नहीं मिला है और रेलवे के दौरान इस्तेमाल की गई डिग्री अब फर्जी कैसे हो सकती है। यही बात हरमनप्रीत के पिता ने भी कही और बेटी की डिग्री को सही ठहराया और खुद मेरठ स्थित विश्वविद्यालय जाकर जांच करने की बात कही।

App download animated image Get the free App now