Create

मुंबई टेस्ट में भी विकेटकीपिंग करते नजर आ सकते हैं पार्थिव पटेल : रिपोर्ट्स

भारत और इंग्लैंड के बीच मोहाली टेस्ट से ठीक पहले ऋद्धिमान साहा को दाएं पैर की हैमस्ट्रिंग में चोट लग गई और टीम प्रबंधन ने फैसला किया कि उन्हें आराम कराया जाए। टीम के पास मोहाली टेस्ट में विकेटकीपर के रूप में आजमाने के लिए कई विकल्प मौजूद थे, जिसमें से सबसे बड़ा नाम रिषभ पंत था जिन्होंने घरेलू क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन किया। हालांकि, पंत से ऊपर भारत ने अनुभवी खिलाड़ी पार्थिव पटेल को तरजीह दी, जो कि राष्टीय टीम से 8 वर्ष से दूर हैं। यह ऐसा चयन था जिससे कई लोग चकित हुए, लेकिन पटेल ने किसी की परवाह नहीं की। पटेल अपनी रणजी टीम गुजरात के साथ दक्षिण हुबली में थे, उन्होंने सामान बांधा और चंडीगढ़ पहुंच गए। कोई भी आपसे कहेगा कि लंबे समय के बाद राष्ट्रीय टीम में वापसी करना आसान काम नहीं है। मगर पटेल ने जिस तरह खेला उससे एक पल भी ऐसा एहसास नहीं हुआ कि वह कभी टीम से बाहर भी थे। उन्होंने आर अश्विन की गेंद पर इंग्लैंड के कप्तान एलिस्टेयर कुक का शानदार कैच लपका और फिर पहली पारी में ओपनिंग करते हुए आकर्षक 42 रन की पारी खेली। हालांकि दूसरी पारी में बाएं हाथ के बल्लेबाज ने अधिक उम्दा योगदान दिया। भारत को जीत के लिए 103 रन की दरकार थी, तब पटेल ने तेजतर्रार पारी खेलते हुए नाबाद 67 रन की पारी खेली और विराट कोहली के साथ मिलकर टीम को 8 विकेट की जीत दिलाई। इस प्रदर्शन के बाद कई आवाजें उठनी लगी हैं कि पटेल को ज्यादा मौके मिलने चाहिए और रिपोर्ट्स की माने तो यह बातें सच होती दिख रही हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक साहा को मुंबई टेस्ट में भी आराम कराया जाएगा और पार्थिव पटेल टीम में बने रहेंगे। अभी इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है कि साहा चोट से उबरे हैं या नहीं, लेकिन मैच के करीब आते-आते यह स्पष्ट हो जाएगा। भारतीय क्रिकेट टीम फ़िलहाल लंबे ब्रेक पर है। उसे इंग्लैंड के खिलाफ 8 दिसंबर से मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम पर सीरीज का चौथा टेस्ट खेलना है। मेजबान टीम ने मोहाली में ऑलराउंड प्रदर्शन करते हुए मुकाबला जीता और सीरीज में 2-0 की अजय बढ़त बनाई।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment