Create

रिकी पोटिंग ने विराट कोहली, स्टीव स्मिथ, जो रूट और केन विलियमसन की तुलना पर दिया बड़ा बयान

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान रिकी पोटिंग ने स्टीव स्मिथ की काफी तारीफ की है। खासकर टेस्ट मैचों में जिस तरह स्मिथ बल्लेबाजी कर रहे हैं उससे कंगारु टीम के पूर्व विश्व विजेता कप्तान पोटिंग काफी प्रभावित हैं। उन्होंने स्टीव स्मिथ को दुनिया का सबसे बढ़िया बल्लेबाज बताया है, लेकिन इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान जो रूट और न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन को स्मिथ जितना बेहतरीन बल्लेबाज मानने में वो हिचकिचाते हैं। हालांकि पोटिंग ने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली को भी इस वक्त का बेहतरीन बल्लेबाज बताया है। क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से बातचीत में पोटिंग ने कहा कि आप दुनिया भर के और बेहतरीन बल्लेबाजों को देखिए उनमें विराट कोहली का स्तर काफी ऊंचा है। लेकिन जहां तक केन विलियम्सन और जो रूट की बात है तो मुझे नहीं लगता कि वो स्टीव स्मिथ के आसपास हैं। पोटिंग ने कहा कि मैं ये काफी समय से कह रहा हूं। गौरतलब है स्टीव स्मिथ इस वक्त आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक पायदान पर हैं। पर्थ में इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रहे तीसरे एशेज टेस्ट में उन्होंने शानदार दोहरा शतक जड़ा। इससे पहले भी वो इसी सीरीज में एक और शतक लगा चुके हैं। पर्थ में दोहरा शतक लगाने के बाद वो टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में एक कैलेंडर साल में लगातार 4 बार 1000 से ज्यादा रन बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज बन गए हैं। रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के ही पूर्व धाकड़ बल्लेबाज मैथ्यू हेडन के नाम है जिन्होंने 5 बार ये कारनामा किया था। वहीं स्मिथ का औसत भी टेस्ट क्रिकेट में काफी बेहतरीन है। अक्सर विराट कोहली, स्टीव स्मिथ, केन विलियमसन और जो रूट की तुलना होती है। हालांकि जो रूट एशेज सीरीज में अभी तक अपने नाम के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। वहीं कप्तान विराट कोहली हाल ही में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला में लगातार 2 दोहरे शतक जड़ चुके हैं। वहीं केन विलियमसन की अगर बात की जाए तो वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज में उनका प्रदर्शन ठीक-ठाक रहा था। हालांकि देखा जाए तो कोहली टेस्ट क्रिकेट में स्टीव स्मिथ से ज्यादा पीछे नहीं हैं। स्टीव स्मिथ के नाम जहां 22 टेस्ट शतक हैं तो विराट कोहली अब तक 20 शतक लगा चुके हैं। हालांकि वनडे क्रिकेट में विराट 32 शतक जड़ चुके हैं।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment