ऋषभ पंत टेस्ट मैचों में अलग तरीके से बल्लेबाजी कर सकते हैं: राहुल द्रविड़

इंग्लैंड के खिलाफ 1 अगस्त से शुरु होने वाली 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को भी भारतीय टीम में शामिल किया गया है। वैसे तो ऋषभ पंत अपनी धुआंधार बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं। आईपीएल में उन्होंने कई धुआंधार पारियां खेली हैं लेकिन हाल ही में इंडिया ए के इंग्लैंड दौरे पर उन्होंने क्रिकेट के लंबे प्रारूप में भी अच्छी बल्लेबाजी की। इंडिया ए के कोच राहुल द्रविड़ का भी कहना है कि ऋषभ पंत टेस्ट मैचों में अलग तरीके से बल्लेबाजी करने में सक्षम हैं। बीसीसीआई डॉट टीवी से बातचीत में पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि ऋषभ पंत ने दिखाया है कि वो टेस्ट क्रिकेट में अलग तरीके से बल्लेबाजी कर सकते हैं और उनके पास वो क्षमता है। द्रविड़ ने कहा कि हालांकि ऋषभ पंत एक आक्रामक खिलाड़ी हैं और ये उनका स्वभाविक खेल है लेकिन टेस्ट मैचों में जरुरत के हिसाब से वो खुद को ढालने में सक्षम हैं। हमें खुशी हो रही है कि उन्हें पहली बार भारतीय टेस्ट टीम में शामिल किया गया है और उम्मीद है कि वो इस मौके का पूरा फायदा उठाएंगें। द्रविड़ ने आगे कहा कि इंग्लैंड दौरे पर 3-4 बार पंत ने दिखाया कि वो अलग तरह से बल्लेबाजी करने की कोशिश कर रहे हैं। हम सबको पता है कि वो किस तरह के बल्लेबाज हैं। यहां तक कि 2017-18 के रणजी ट्रॉफी सीजन में जब उसने 900 से ज्यादा रन बनाए थे तो तब भी उसका स्ट्राइक रेट 100 से ऊपर का था। इसके अलावा आईपीएल में उसने इसी तरह से बल्लेबाजी की। पूर्व कप्तान ने आगे कहा कि इस दौरे पर हमने ऋषभ पंत को हालात के मुताबिक बल्लेबाजी करने की चुनौती दी और उन्होंने अपने आपको साबित भी किया। ट्राई सीरीज के फाइनल में उन्होंने 64 रनों की नाबाद पारी खेली। इसके अलावा वेस्टइंडीज ए के खिलाफ निचले क्रम में जयंत यादव के साथ मिलकर उन्होंने 100 रनों की साझेदारी की। गौरतलब है टेस्ट मैचों के नियमित विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा चोट की वजह से सीरीज से बाहर हो गए हैं। उनकी जगह दिनेश कार्तिक को टीम में शामिल किया गया, वहीं उनके विकल्प के तौर पर ऋषभ पंत को टीम में जगह मिली है। अब देखना है कि पंत इस मौके का कितना फायदा उठा पाते हैं।

App download animated image Get the free App now