Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज रॉडनी हॉग ने स्टीव स्मिथ पर टीम चयन में पक्षपात का आरोप लगाया

SENIOR ANALYST
Modified 21 Sep 2018
Advertisement
लगातार हार से जूझ रहे ऑस्ट्रेलिया टीम के कप्तान स्टीव स्मिथ को एक और झटका लगा है। उन पर टीम चयन में पक्षपात का आरोप लगा है। ये आरोप ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व तेज गेंदबाज रॉडनी हॉग ने लगाया है। रॉडनी का कहना है कि स्मिथ अपनी पसंद के खिलाड़ियों को ही टीम में शामिल कर रहे हैं जबकि अच्छे और प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को नजरंदाज किया जा रहा है। हॉग का कहना है कि एश्टन एगर, हिल्टन कार्टराइट और निक मैडिसन जैसे खिलाड़ियों को इसलिए भारत के खिलाफ चल रही एकदिवसीय श्रृंखला में शामिल किया गया क्योंकि वे स्टीव स्मिथ के नजदीकी हैं। हॉग ने कहा कि ' वे अपने करीबी लोगों को चुन रहे हैं। एश्टन एगर और कार्टराइट को टीम में शामिल किया गया। हमने देखा कि निक मैडिसन का भी चयन हुआ, वो भी स्मिथ के करीबी हैं। आप अपने करीबी लोगों का चयन नहीं कर सकते हैं'। हॉग ने कहा कि ' हमें एकदम बिना किसी पक्षपात के टीम का चयन चाहिए। हम अभी अच्छी क्रिकेट नहीं खेल रहे हैं और मुझे लगता है कि स्टीव स्मिथ अपने तरीके से टीम को चला रहे हैं। उन्होंने कहा कि ' हॉलैंड ने साबित किया कि वो गेंदबाजी कर सकता है और लेफ्ट ऑर्म आर्थोडॉक्स स्पिनर को खेलना आसान नहीं होता है, लेकिन फिर भी वो टीम में नहीं है'। रॉडनी हॉग की राय है कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को अपनी चयन पॉलिसी पर ध्यान देना चाहिए और ऐसी मीटिंगों में कप्तान की भूमिका को लेकर खास ख्याल रखा जाना चाहिए। हॉग का मानना है कि जिस तरह से हाल के दिनों में ऑस्ट्रेलियाई टीम में एक के बाद एक खिलाड़ियों का चयन हुआ है वो दर्शाता है कि स्मिथ अपने पसंदीदा खिलाड़ियों को टीम में ला रहे हैं। रॉडनी का मानना है कि जॉन हॉलैंड और ट्रैविस हेड दोनों एक साथ उपमहाद्वीप की पिचों पर घातक साबित हो सकते हैं। आपको बता दें रॉडनी हॉग ने ऑस्ट्रेलिया की तरफ से खेलते हुए 38 टेस्ट मैचों में 123 विकेट चटकाए थे, जबकि 71 एकदिवसीय मैचों में 85 विकेट लिए थे। उन्होंने टेस्ट से 1984 और एकदिवसीय मैचों से 1985 में संन्यास लिया था।
Published 27 Sep 2017, 11:33 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now