"भारत की बल्लेबाजी संघर्ष कर रही है जो चिंता का विषय है," पूर्व भारतीय खिलाड़ी का बयान

भारत की बल्लेबाजी निरन्तरता की कमी से जूझ रही है
भारत की बल्लेबाजी निरन्तरता की कमी से जूझ रही है

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन टेस्ट मैचों (SA vs IND) की सीरीज शुरू होने में अब महज एक दिन का समय बाकी है। ऐसे में तैयारियां भी अंतिम चरण में है। इस बीच पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। आकाश चोपड़ा ने भारतीय बल्लेबाजी के संघर्ष को लेकर चिंता व्यक्त की है।

अपने यूट्यूब चैनल पर आकाश चोपड़ा ने कहा कि हमारी ओपनिंग बहुत अच्छी नहीं रही है। अगर सलामी बल्लेबाज अच्छा नहीं करते हैं तो टीम अच्छा नहीं करती है। हमने इंग्लैंड में अच्छा प्रदर्शन किया क्योंकि राहुल और रोहित लगातार अच्छा कर रहे थे। यहाँ हमारे पास वह नहीं है, जो एक समस्या हो सकती है।

इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि पिछली बार (दक्षिण अफ्रीका में) हमारे सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी विराट कोहली थे। उन्होंने 47 की औसत से 286 रन बनाए। लेकिन रन बनाने वाला कोई और नहीं था और यही मुख्य मुद्दा था। अगर आप चार या पांच सत्र में बल्लेबाजी नहीं करते हैं तो जीतना मुश्किल हो जाता है। पिछली बार भारत तीन सेशन भी ठीक से नहीं खेल सका था।

चोपड़ा ने कहा कि भारत ने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में अच्छा खेला लेकिन बल्लेबाजी में हम संघर्ष कर रहे हैं जो मेरी मुख्य चिंता है। निचले मध्य क्रम में हमारे पास अक्षर और जडेजा नहीं है जबकि ओपनिंग में रोहित शर्मा नहीं हैं। रहाणे फॉर्म में नहीं हैं और पुजारा के पास भी निरंतरता नहीं है।

भारत ने इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीती है लेकिन दक्षिण अफ्रीका में अब भी टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज करने का इंतजार है। भारतीय टीम ने पिछले दौरे पर यहाँ एक मैच जीता था लेकिन सीरीज मेजबान देश ने ही जीती थी। ऐसे में कहा जा सकता है कि उछाल और गति वाली पिचों पर भारतीय टीम के लिए काम मुश्किल रहेगा।

Quick Links

Edited by निरंजन