Create

डीन एल्गर ने भारत को दूसरे टेस्ट में हराने के बाद दी बड़ी प्रतिक्रिया

डीन एल्गर ने एक छोर पर खड़े होकर टीम को जिताया
डीन एल्गर ने एक छोर पर खड़े होकर टीम को जिताया

दक्षिण अफ्रीका ने भारतीय टीम को दूसरे टेस्ट मैच में हरा दिया, इसका श्रेय कप्तान डीन एल्गर की नाबाद 96 रन की पारी को जाना चाहिए। एल्गर ने टिककर बल्लेबाजी करते हुए टीम को 7 विकेट से जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। उनको प्लेयर ऑफ़ द मैच भी चुना गया। अपनी टीम की जीत के बाद एल्गर ने कुछ अहम बातें कही।

डीन एल्गर ने कहा कि मुझे नहीं पता कि क्रिकेट मैच जीतने का सही या गलत तरीका क्या है, लेकिन यह मूल चीजों को सही करने के बारे में जरुर है। हमने इसे 1-1 करने के लिए बहुत सारे बॉक्सों पर टिक का निशान लगाया। अब हम काफी आत्मविश्वास के साथ केपटाउन जा रहे हैं, यह आसान नहीं था लेकिन बल्लेबाजों ने ठान लिया था। इसका श्रेय हमारे गेंदबाजों को जाता है कि उन्होंने जो प्रयास किया वह बहुत प्रभावशाली था।

🚨 RESULT | #Proteas WIN BY 7 WICKETS🇿🇦 Captain Dean Elgar's unbeaten 96 was the mainstay of the #Proteas chase as he showed plenty of fight and grit to get his side over the line and level the #BetwayTestSeries#SAvIND #FreedomTestSeries #BePartOfIt https://t.co/uez5t7RRqZ

दक्षिण अफ़्रीकी कप्तान ने आगे कहा कि मुझे अभी तक चोट के निशान (जो गेंदें उनको लगी) नहीं दिख रहे हैं, लेकिन अपने देश के लिए खेलने को लेकर यह एक बड़ी प्रेरणा है। मैं जो कुछ भी कर रहा हूं, बड़ी तस्वीर देखना महत्वपूर्ण है और बड़ी तस्वीर अपने देश के लिए गेम जीतना है। जब आप चार दिनों की अवधि में इस तरह का प्रदर्शन करते हैं, तो यह आप ऐसा करने में होने वाले दर्द को भूल जाते हैं। हमारे बल्लेबाजों के लिए यह एक परीक्षा थी और हमने सही बल्लेबाजी लाइनअप के लिए संघर्ष किया। रैसी वैन डर डुसेन के 40 रनों को लेकर एल्गर ने कहा कि वह करियर में काफी आगे तक जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि दक्षिण अफ्रीका को चौथे दिन जीतने के लिए 122 रन चाहिए थे। कुल 240 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए तीसरे दिन मेजबानों ने 2 विकेट पर 118 रन बनाए थे। बचे हुए रन चौथे दिन हासिल करते हुए दक्षिण अफ्रीका ने सीरीज में उम्मीदें जिन्दा रखी है।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment