सचिन तेंदुलकर ने दक्षिण अफ्रीका में खेलने के लिए बताई बेहतरीन तकनीक

सचिन तेंदुलकर ने तकनीक को अहम बताया है
सचिन तेंदुलकर ने तकनीक को अहम बताया है

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने दक्षिण अफ्रीका में भी अपने बल्ले से कुछ यादगार परियां खेली हैं। इस समय भारतीय टीम टेस्ट सीरीज के लिए दक्षिण अफ्रीका में है। ऐसे में तेंदुलकर ने टीम इंडिया के लिए ऐसी बातों का जिक्र किया है जिनसे कुछ फायदा होने की उम्मीद की जा सकती है।

बैकस्टेज विद बोरिया में तेंदुलकर ने कहा कि मैंने हमेशा कहा है, फ्रंट फुट डिफेंस महत्वपूर्ण है। सामने की ओर, सामने के पैर की रक्षा महत्वपूर्ण है। वह फ्रंट फुट डिफेंस यहां गिना जाएगा। पहले 25 ओवर फ्रंट फुट डिफेंस महत्वपूर्ण होने वाला है। तेंदुलकर ने उल्लेख किया कि रोहित शर्मा और केएल राहुल ने इंग्लैंड के दौरे के दौरान अपने फ्रंट फुट डिफेंस के साथ अच्छी तकनीक दिखाई थी, जिसमें भारत 2-1 से आगे चल रहा था जब पांचवां टेस्ट 2022 तक के लिए स्थगित कर दिया गया था।

इसके अलावा पूर्व भारतीय बल्लेबाज ने कहा कि हाथों को शरीर से दूर नहीं जाने देना चाहिए। अगर शरीर से हाथ दूर जाएँगे, तो शॉट में नियंत्रण खोने का डर होता है। सुन्दरता यही है कि हाथों को दूर नहीं जाने देना है। हाथ पास रहने से गेंद पर किनारा लगने की संभावना कम हो जाती है।

उल्लेखनीय है कि दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भारतीय टीम के साथ रोहित शर्मा नहीं होंगे। रोहित शर्मा चोट की वजह से टेस्ट सीरीज से बाहर हो गए हैं। ऐसे में प्रियांक पांचाल को टीम में शामिल किया गया है। केएल राहुल को टीम का उपकप्तान बनाया गया है। मयंक अग्रवाल भी टीम के साथ होंगे। देखा जाए तो टीम के लिए दक्षिण अफ्रीका में चुनौती निश्चित रूप से रहेगी।

बीसीसीआई और क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए सीरीज को बंद दरवाजों में बिना दर्शकों के आयोजित कराने का निर्णय लिया है। दक्षिण अफ्रीका में कोरोना का खतरा ज्यादा है।

Quick Links

Edited by निरंजन
Be the first one to comment