"Ravi Bishnoi को मैं तीनों प्रारूपों में खेलते हुए देखना पसंद करूंगा" - युवा लेग स्पिनर को लेकर आया बड़ा बयान 

रवि बिश्नोई को लेकर सबा करीम ने बड़ा बयान दिया है
रवि बिश्नोई को लेकर सबा करीम ने बड़ा बयान दिया है

भारतीय लेग स्पिनर रवि बिश्नोई (Ravi Bishnoi) ने अभी तक अपने छोटे से करियर में काफी ज्यादा प्रभावित किया है। उनकी काबिलियत से प्रभावित होकर पूर्व भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज और पूर्व चयनकर्ता सबा करीम (Saba Karim) ने बड़ा बयान दिया है। सबा करीम का मानना है कि युवा लेग स्पिनर बिश्नोई में सभी कौशल हैं जो भारतीय टीम के लिए तीनों प्रारूपों में सफल होने के लिए चाहिए।

बिश्नोई ने 2020 अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम के लिए काफी अच्छी गेंदबाजी की थी और उनके अच्छे प्रदर्शन के कारण आईपीएल 2020 में पंजाब किंग्स ने उन्हें अपनी टीम में शामिल किया था। पंजाब किंग्स के लिए 2 सीजन खेलने के बाद युवा लेग स्पिनर को इस साल हुए मेगा ऑक्शन में लखनऊ सुपरजायंट्स की टीम ने ड्राफ्ट के माध्यम से अपने साथ जोड़ा।

इसी साल फरवरी में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गई टी20 सीरीज में उन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर डेब्यू का मौका भी मिला। अपने अब तक के टी20 करियर में बिश्नोई ने भारत के लिए 10 मुकाबले खेले हैं और इस दौरान 16 विकेट अपने नाम किए हैं। उनका इकॉनमी रेट काफी प्रभावशाली रहा है और 8 से भी कम का है। हालाँकि, वह वर्ल्ड कप के लिए स्क्वाड में जगह बनाने से चूक गए हैं।

सबा करीम का कहना है कि भारत को टेस्ट टीम में लेग स्पिनर का चयन करने का ट्रेंड शुरू करने की जरूरत है। स्पोर्ट्स 18 के शो 'स्पोर्ट्स ओवर द टॉप' में सबा ने कहा,

मैं उन्हें तीनों प्रारूपों में खेलते हुए देखना पसंद करूंगा और किसी कारण से, हमें इन दिनों टेस्ट मैच के प्रारूप में कोई लेग स्पिनर नहीं दिख रहा है। लेकिन मैं यहां बदलाव देखना चाहता हूं और रवि बिश्नोई एक ऐसे उम्मीदवार हैं जो तीनों प्रारूपों में खेल सकते हैं और भारत के लिए अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।

सबा करीम ने रवि बिश्नोई को अपने राज्य के लिए लाल गेंद की क्रिकेट खेलने की सलाह दी

सबा करीम ने कहा कि भारतीय टेस्ट टीम की दावेदारी के लिए युवा गेंदबाज को पहले अपने राज्य की टीम के लिए लाल गेंद की क्रिकेट खेलना होगी। उन्होंने कहा,

लेकिन इससे पहले, उन्हें अपने राज्य की टीम में लाल गेंद की क्रिकेट खेलने की जरूरत है और अगर वह वहां अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो इससे उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा और फिर भारतीय चयनकर्ता ुनेहँ तीनों प्रारूपों में खिलाने के बारे में सोच सकते हैं। उन्होंने जिस तरह की उत्सुकता और क्षमता दिखाई है, और उसके ऊपर, उनके पास जो कौशल है, वह वास्तव में सराहनीय है। उम्र में युवा और वह सब अनुभव वास्तव में आत्मविश्वास बढ़ाने में मदद करता है और वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी ऐसा करना जारी रख सकते हैं।

घरेलू क्रिकेट में राजस्थान के लिए खेलने वाले रवि बिश्नोई ने अपने राज्य के लिए अभी तक एक भी लाल गेंद का मुकाबला नहीं खेला है। उन्होंने 17 लिस्ट ए मुकाबले खेले हैं। इसके अलावा उन्होंने अपने करियर में अभी तक 67 टी20 मुकाबले खेले हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment