Birthday Special : सचिन तेंदुलकर के बारे में 5 ऐसी बातें जो आप बिल्कुल भी नहीं जानते होंगे

India v Australia: Final - ICC Men
India v Australia: Final - ICC Men's Cricket World Cup India 2023

Sachin Tendulkar Lesser Known Facts : टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज और मास्टर-ब्लास्टर के नाम से मशहूर सचिन तेंदुलकर का आज जन्मदिन है। सचिन तेंदुलकर का जन्म 24 अप्रैल 1973 को हुआ था और अब वो 51 साल के हो चुके हैं। अपने करियर के दौरान सचिन तेंदुलकर ने कई सारे रिकॉर्ड्स बनाए थे, जिसे आज तक कोई भी बल्लेबाज नहीं तोड़ पाया है। उनके नाम 100 शतकों का रिकॉर्ड है, जिसका टूटना काफी मुश्किल लग रहा है।

सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड्स के बारे में तो सब जानते हैं कि उन्होंने अपने करियर में क्या-क्या रिकॉर्ड्स बनाए। लेकिन आज उनके जन्मदिन के मौके पर हम आपको सचिन तेंदुलकर से जुड़ी कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताएंगे जिनके बारे में आप बिल्कुल नहीं जानते होंगे।

सचिन तेंदुलकर के बारे में 5 अनसुनी बातें

1987 के वर्ल्ड कप में बॉल ब्वॉय के रुप में किया काम

1987 का वर्ल्ड कप सेमीफाइनल भारत और इंग्लैंड के बीच खेला गया था और इस मैच में सचिन तेंदुलकर बॉल ब्वॉय थे। उस वक्त उनकी उम्र सिर्फ 13 साल थी। इसके बाद इसी मैदान पर उन्होंने कई दिग्गजों के साथ मैच भी खेला। ये मुकाबला मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया था और बाद में इसी मैदान में सचिन तेंदुलकर ने वर्ल्ड कप टाइटल जीतने का गौरव हासिल किया।

पाकिस्तान के लिए कर चुके हैं फील्डिंग

कई सारे लोगों को पता नहीं होगा कि सचिन तेंदुलकर पाकिस्तान क्रिकेट टीम की तरफ से फील्डिंग भी कर चुके हैं। भारत और पाकिस्तान के बीच 1988 में एक वॉर्म-अप मैच खेला गया था और उस मैच में सब्सीट्यूट के तौर पर सचिन तेंदुलकर ने पाकिस्तान की तरफ से फील्डिंग की थी।

महज 14 साल की उम्र में खेला था रणजी ट्रॉफी का

आपको जानकर हैरानी होगी कि सचिन तेंदुलकर ने अपना रणजी डेब्यू मात्र 14 साल की उम्र में ही कर लिया था। वो ऐसा करने वाले सबसे युवा खिलाड़ी थे।

भारत रत्न पाने वाले पहले भारतीय एथलीट

सचिन तेंदुलकर पहले ऐसे भारतीय खिलाड़ी हैं जिन्हें भारत रत्न से नवाजा गया। साल 2014 में उन्हें देश के सबसे बड़े नागरिक सम्मान से सम्मानित किया गया था।

थर्ड अंपायर द्वारा आउट करार दिए जाने वाले क्रिकेट इतिहास के पहले खिलाड़ी

सचिन तेंदुलकर क्रिकेट इतिहास के पहले खिलाड़ी हैं जिन्हें थर्ड अंपायर द्वारा आउट करार दिया गया था। तीसरे अंपायर का नियम 1992 में शुुरु हुआ था और सचिन तेंदुलकर थर्ड अंपायर द्वारा आउट दिए जाने वाले पहले प्लेयर थे।

Quick Links

App download animated image Get the free App now