Create
Notifications

वीडियो : सचिन तेंदुलकर ने किया खुलासा कि आखिर क्यों धोनी में दिखती थी नेतृत्व क्षमता

विनय प्रताप

क्रिकेट में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को यूं ही भगवान का दर्जा प्राप्त नहीं है। क्रिकेट के हर विभाग की उन्हें गहरी समझ है। मास्टर ब्लास्टर शुरुआती दिनों में ये भांप चुके थे कि महेंद्र सिंह धोनी आने वाले कल में भारतीय क्रिकेट टीम का नेतृत्व करेंगे। ये खुलासा उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान किया, जहां उन्होंने धोनी के बारे में दिलचस्प कहानी भी सुनाई जिसके जरिये उन्हें उनके बेहतरीन लीडर होने का पता चला। शो " ब्रेकफास्ट विद चैम्पियंस " में सचिन तेंदुलकर ने अपने पुराने दिनों की यादें ताज़ा कीं। सचिन ने साथ ही धोनी से जुड़ा रोचक किस्सा भी सुनाया। जब शो के होस्ट गौरव कपूर ने सचिन से सवाल किया " धोनी के कप्तान चुने जाने के पीछे आपकी भूमिका रही है , इसके बारे में विस्तार से बताइये । माही भी ये स्वीकार कर चुके हैं कि सचिन का उनके कप्तान बनने में अहम योगदान है। आपने उनमें ऐसा क्या देखा कि लगा ये कप्तान की जिम्मेदारी संभालने योग्य है।"

youtube-cover

सचिन इसके बारे में बताते हुए बोले ' जब मैं स्लिप पर फील्डिंग करता था तब माही से फील्डिंग पोजीशन के बारे में चर्चा करता रहता था। जब मैं सुझाव देता तो वो भी अपनी राय रखते थे। मैं तब ही समझ गया था कि ये कुछ अलग सोच रहा है जो एक लीडर बनने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। यहां गौरव कपूर मज़ाक में बोले ' शायद धोनी को इस बारे में भनक नहीं होगी कि उनका जॉब इंटरव्यू चल रहा है।' 2007 में जब धोनी को टी20 क्रिकेट टीम की कप्तानी सौंपी गई तब उनकी उम्र महज़ 26 साल थी। इसके बाद उन्होंने अपनी कप्तानी में भारत को 2007 टी20 विश्व कप , 2011 में विश्व कप और 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी जिताई। साथ ही उनकी कप्तानी में भारत टेस्ट टीम भी नंबर वन बनी। इस वक्त धोनी आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी कर रहे हैं।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...