सचिन तेंदुलकर के कोच रमाकांत आचरेकर का निधन

Enter caption

पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के कोच रमाकांत आचरेकर का 87 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। उन्होंने मुंबई में अंतिम सांस ली। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को कोचिंग देने के अलाव रमाकांत आचरेकर ने विनोद कांबली, अजीत अगरकर और प्रवीण आमरे को भी क्रिकेट की दुनिया के लिए तैयार किया था।

रमाकांत आचरेकर ने कई साल पहले मुंबई के शिवाजी पार्क में कामथ मेमोरियल क्रिकेट क्लब की स्थापना की थी, जहां उन्होंने इन क्रिकेटरों को कोचिंग दी और उनका पालन पोषण किया। वर्तमान में इस क्लब को उनकी बेटी और दामाद चला रहे हैं। बीसीसीआई ने ट्वीट कर आचरेकर के निधन पर दुख जताया है।

सचिन तेंदुलकर जिन्हें सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक माना जाता है उन्होंने हमेशा कोच आचरेकर कि मदद की। सचिन ने अपने करियर के दौरान भी आचरेकर के शिक्षण विधियों के बारे में बात की है। इस दौरान सचिन ने यह भी बताया है कि"आचरेकर सर कई बार खेल के प्रति बेहद सख्त रहते थे लेकिन सख्त रहने के बावजूद भी प्यार करने और देखभाल में कोई कसर नहीं छोड़ते थे। सचिन ने बताया कि आचरेकर सर ने मुझे कभी अच्छा नहीं कहा। लेकिन (जब) सर मुझे पानीपुरी या भेलपुरी खाने के लिए ले जाते थे तो मैं समझ जाता था कि सर मेरे मैदान के प्रदर्शन से खुश है।"

Enter caption

शिक्षक दिवस जैसे अवसरों पर सचिन अपने गुरु से मिलने जरूर जाते थे और उनका आदर सम्मान किया करते थे। सचिन तेंदुलकर के जीवन को केंद्रित रखकर बनाई गई फिल्म "सचिन: ए बिलियन ड्रीम्स" में भी आचरेकर की महत्वपूर्ण भूमिका बताई गई है। इस फिल्म में सचिन की सफलता को भी दर्शाया गया है।1932 को जन्मे रामाकांत आचरेकर खुद कई दशक पहले क्रिकेटर थे। हालांकि, उन्हें ज्यादा सफलता नहीं मिली। 1963-64 में ऑल इंडिया स्टेट बैंक के लिए इन्होंने सिर्फ एक प्रथम श्रेणी मैच खेला था।

Enter caption

क्रिकेट कोचिंग में अपनी सेवाओं के लिए उन्हें 2010 में पद्मश्री सहित कुछ प्रशंसाएँ भी मिली। पद्मश्री देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक है। 1990 में उन्हें द्रोणाचार्य पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था।

Get Cricket News In Hindi Here

Quick Links

App download animated image Get the free App now