Create

'शेफाली वर्मा के लिए अब रास्ता सिर्फ और आगे जाने का है'

England Women v India Women - LV= Insurance Test Match: Day Three
England Women v India Women - LV= Insurance Test Match: Day Three

भारत के पूर्व हरफनमौला खिलाड़ी संजय बांगड़ (Sanjay Bangar) ने युवा भारतीय सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा की प्रशंसा करते हुए कहा कि युवा खिलाड़ी का भविष्य उज्ज्वल है और 'आसमान उसकी सीमा है'। 17 साल की शेफाली वर्मा (Shafali Verma) पिछले हफ्ते टेस्ट डेब्यू करने वाले खिलाड़ियों में शामिल थीं, जब भारतीय महिला टीम ने सात साल बाद टेस्ट मैच खेला था। ब्रिस्टल में मेजबान इंग्लैंड से खेलते हुए वर्मा ने 96 और 63 की पारियों से प्रभावित किया।

संजय बांगड़ ने स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत में कहा कि उनका (शेफाली वर्मा का) भविष्य केवल उज्ज्वल हो सकता है और यहाँ से उनके लिए रास्ता सिर्फ आगे जाने का है और आकाश ही सीमा है। भले ही भारत (महिला वर्ग में) कम टेस्ट मैच खेलता है लेकिन यह एक शानदार मौका था और जिस तरह से उन्होंने खेल को अप्रोच किया, वह ताजा था। उन्होंने निडर रवैये के साथ खेला और विपक्ष को सीधे बैकफुट पर ला दिया, यह बहुत दुर्लभ है।

England Women v India Women - LV= Insurance Test Match: Day Three
England Women v India Women - LV= Insurance Test Match: Day Three

संजय बांगड़ ने भारतीय पुरुष टीम के बल्लेबाजी कोच के रूप में पांच साल बिताए हैं। वह वर्तमान में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में विराट कोहली की अगुवाई वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के लिए एक विश्लेषक और बल्लेबाजी सलाहकार हैं।

शेफाली वर्मा की बल्लेबाजी में निश्चित रूप से वीरेंदर सहवाग की झलक दिखाई दी है। भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज ने हाल ही में एक ट्वीट के माध्यम से युवा लड़की की बल्लेबाजी के निडर दृष्टिकोण की प्रशंसा की। शेफाली वर्मा अपने इंडिया डेब्यू में सचिन तेंदुलकर से भी कम उम्र की थीं। सचिन को वह अपना आदर्श मानती हैं। 15 साल की उम्र में वह सितंबर 2019 में सूरत में दक्षिण अफ्रीकी महिलाओं के खिलाफ ओपनिंग करने के लिए चली गईं। हालांकि वह उस गेम में अपना खाता खोलने में विफल रहीं लेकिन एक हफ्ते बाद उन्होंने 46 रन बनाए।

Quick Links

Edited by निरंजन
Be the first one to comment