Create
Notifications

IPL 2017: संजू सैमसन टीम के लिए मैच नहीं जीतने पर खराब महसूस कर रहे हैं

Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 21 Sep 2018
पिछले तीन दिनों में दिल्ली डेयरडेविल्स रॉबिन उथप्पा का कैच छोड़ने वाली दूसरी टीम हो गई है। इससे एक बात यही है कि इस टीम को यह पाठ सीखना पड़ा है कि टी20 क्रिकेट में कैच की क्या अहमिहत होती है। शुक्रवार को भी अमित मिश्रा और संजू सैमसन ने उथप्पा का कैच ड्रॉप किया और उन्होंने 33 गेंदों में 59 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेल डाली।जब तक वे रनआउट होकर गए तब उनकी टीम कोलकाता नाइटराइडर्स को जीत के लिए 46 गेंदों में 46 रन की जरूरत थी और उन्होंने यह मात्र 22 गेंदों कर दिया। 22 वर्षीय सैमसन ने कहा कि उस कैच का खामियाजा उनकी टीम को भुगतना पड़ा। जब मिश्रा और सैमसन के बीच उस कैच को लेकर बातचीत में कमी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि तेज शोर वाले वातावरण में ऐसा करना मुश्किल होता है। बकौल सैमसन "मेरे ख्याल से उसका खामियाजा हमें भुगतना पड़ा। यहां बहुत व्यस्त क्राउड है और बहुत अधिक शोर है। इसलिए बातचीत करके निर्णय करना मुश्किल होता है। यह एक मैच में हुआ और हमें इसे भूलकर आगे बढ़ने की जरुरत है। किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मैच के बाद हमारे पास एक दिन है।" सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ शतक बनाने के बाद सैमसन ने लगभग हर मैच में अच्छी शुरुआत की है, इसमें 42 और 39 रनों के स्कोर भी शामिल है। शुक्रवार को 38 गेंदों में 60 रन बनाने के बाद 14वें ओवर में गलत समय पर उनका विकेट गिरने से दिल्ली का मोमेंटम बिगड़ गया। यह टीम अंतिम 6 ओवर में मात्र 37 रन बना पाई। सैमसन ने कहा "अभी बहुत कुछ है, मेरे हिसाब से मैं सीख रहा हूं। मुझे मैच समाप्त करने की जरुरत है और इसके लिए पूरे ओवर खेलने होंगे। जब भी आप 20 ओवर खेलते हो तो टीम के जीतने की संभावनाएं अधिक हो जाती है। मैं यही कोशिश कर रहा हूं। मैं सीख रहा हूं और उम्मीद है कि किसी दिन बहुत जल्दी ही सीख जाऊंगा।" चार लगातार हार झेलने के बाद दिल्ली की टीम अंक तालिका में नीचे चली गई है और उनके 7 मैचों में 4 पॉइंट है। सैमसन का कहना है कि टीम सफल नहीं हो पा रही इसमें वो अपना सब कुछ नहीं झोंक पा रहे हैं। अपने इस जवाब में वे काफी दार्शनिक अंदाज में दिखे। इस युवा खिलाड़ी के अनुसार "जब आप क्रिकेट जैसा कोई खेल खेलते हो तो सफलता से अधिक असफल होते हो। एक खिलाड़ी के तौर पर हमें मालूम होता है कि विफलता पर कैसे पार पाना होता है। इसलिए हमें चलता रहना चाहिए। जिन्दगी में भी हमें कई शंकाओं और विफलताओं का सामना करना पड़ता है लेकिन हमें विश्वास और सकारात्मक मानसिकता के साथ बढ़ना होता है। यह मुश्किल है लेकिन खेल की खूबसूरती भी है। हमें सकारात्मकता के साथ खुद को चुनौती देना होता है।" सैमसन को जब युवा बल्लेबाजों को तवज्जो देने पर दिल्ली की बल्लेबाजी लाइन-अप में अनियमितता के बारे में कहा गया तो उन्होंने इस बात को नकार दिया। संजू ने कहा "हमें मुश्किल परिस्थितियों में प्रदर्शन के लिए दबाव उठाना होगा। हम युवा हैं लेकिन हमने 4 से 5 साल तक आईपीएल में खेला है। मुझे लगता है कि हम टीम को जीत दिलाने लायक अनुभव तो रखते हैं।" गौरतलब है कि जहीर खान की अगुआई और राहुल द्रविड़ की कोचिंग वाली दिल्ली डेयरडेविल्स ने टूर्नामेंट का आगाज बड़े धमाकेदार अंदाज में किया था लेकिन कुछ मैचों में जीत के बाद इस टीम की हार का सिलसिला शुरू हो गया। संजू सैमसन ने इस बार निरंतर अच्छी बल्लेबाजी की है। उनके अलावा युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पन्त ने भी शुरूआती मैचों में कुछ शानदार पारियां खेली थी लेकिन बाद में वे लगातार फ्लॉप होते चले गए और टीम की हार का प्रतिशत भी बढ़ता चला गया। देखना है आगे इस टीम में जीत के लिए कुछ नया देखने को मिलता है या नहीं।  
Published 29 Apr 2017
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now