रणजी ट्रॉफी के खिताब पर सौराष्ट्र का दूसरी बार कब्ज़ा, भारतीय टीम के खिलाड़ियों की शानदार गेंदबाजी

जयदेव उनादकट ने जबरदस्त गेंदबाजी प्रदर्शन किया
जयदेव उनादकट ने जबरदस्त गेंदबाजी प्रदर्शन किया

ईडन गार्डन्स में खेले गए रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) 2022-23 के फाइनल मुकाबले में सौराष्ट्र ने बंगाल को 9 विकेट से हराते हुए ख़िताब जीता। चौथे दिन बंगाल के द्वारा दिए गए 12 रनों के लक्ष्य के जवाब में 14/1 का स्कोर बनाते हुए सौराष्ट्र ने मुकाबला अपने नाम किया। इससे पहले बंगाल ने अपनी दूसरी पारी में 241 रन बनाये और 11 रनों की बढ़त हासिल की थी।

चौथे दिन 169/4 के स्कोर आगे खेलने उतरी बंगाल को पांचवां झटका 194 के स्कोर पर लगा। शाहबाज़ अहमद 27 रन के निजी स्कोर पर रन आउट हुए। कप्तान मनोज तिवारी भी अपने कल के स्कोर में ज्यादा इजाफा नहीं कर पाए और 68 रन बनाकर जयदेव उनादकट का स्कोर बने। 198 के स्कोर पर ही अभिषेक पोरेल भी आउट हो गए और वह अपना खाता भी नहीं खोल पाए। आकाश दीप भी 1 रन बनाकर पवेलियन लौटे। आकाश घटक को 4 रन के निजी स्कोर पर आउट कर उनादकट ने पारी में पांच विकेट पूरे किये। मुकेश कुमार और ईशान पोरेल की जोड़ी ने कुछ देर मोर्चा संभाला और सुनिश्चित किया कि उनकी टीम को पारी से हार न मिले और उन्होंने अपनी टीम को बढ़त दिलाई। इस साझेदारी को उनादकट ने तोड़ा और पोरेल 22 रन बनाकर आउट हुए। वहीं, मुकेश कुमार 15 रन बनाकर नाबाद रहे। इस तरह बंगाल की दूसरी पारी 70.4 ओवर में 241 के स्कोर पर सिमटी। सौराष्ट्र के लिए जयदेव उनादकट ने छह और चेतन सकारिया ने तीन विकेट लिए।

छोटे लक्ष्य का पीछा करने उतरी सौराष्ट्र की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही और ओपनर जय गोहिल बिना कोई रन बनाये आकाश दीप का शिकार बने। यहां से विश्वराज जडेजा ने 10* और हार्विक देसाई ने नाबाद 4 रन बनाते हुए अपनी टीम को तीसरे ही ओवर में जीत दिला दी।

आपको बता दें कि सौराष्ट्र का यह दूसरा रणजी ख़िताब है। इससे पहले उन्होंने 2019-20 सीजन में भी ख़िताब जीता था और उस बार भी उन्होंने बंगाल को ही फाइनल में हराया था।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment