Create
Notifications

जिम्बाब्वे के खिलाड़ी ने संन्यास लेने का फैसला वापस लिया

सीन विलियम्स ने एक लेटर लिखकर अपना फैसला बोर्ड को बताया था
सीन विलियम्स ने एक लेटर लिखकर अपना फैसला बोर्ड को बताया था
Naveen Sharma
FEATURED WRITER

आयरलैंड (Ireland) के खिलाफ जिम्बाब्वे (Zimbabwe) की सीरीज से पहले एक अहम खबर आई थी और वह सीन विलियम्स (Sean Williams) के संन्यास से जुड़ी थी। विलियम्स ने बोर्ड को एक लेटर लिखते हुए संन्यास की बात कही थी। विलियम्स ने कहा था कि मैं अपना तीन महीने का नोटिस पूरा कर नवम्बर में बूट टांग दूंगा। अब इस पर एक नया मोड़ आया है और विलियम्स ने इरादा बदल दिया है।

सीन विलियम्स जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड के कुछ निर्णयों को लेकर नाखुश चल रहे थे लेकिन अब संन्यास का इरादा बदल दिया है। सन्डे न्यूज के अनुसार विलियम्स ने अब अपने लेटर को वापस लेना का निर्णय लिया है। इसका मतलब है कि अब वह मौजूदा अनुबंध में रहेंगे जो अभी 10 माह का बचा है। कोच लालचंद राजपूत से भी वह नाखुश थे, देखना होगा कि मामले पर आगे क्या होता है।

लालचंद राजपूत ने दो साल पहले जिम्बाब्वे के कोच का पद संभाला था। इसके बाद उनसे काफी उम्मीदें की जा रही थी। हालांकि चीजें उम्मीद के अनुसार नहीं गई और जिम्बाब्वे के खेल में भी कोई सुधार नहीं हुआ। लालचंद राजपूत के कार्यकाल में जिम्बाब्वे की टीम ने पिछले 10 टेस्ट में से 2 में जीत दर्ज की है। इसके अलावा एकदिवसीय क्रिकेट में जिम्बाब्वे ने 29 में से 4 मुकाबलों में जीत हासिल की है। टी20 क्रिकेट में भी हाल कुछ ऐसा ही है। 29 में से सिर्फ 8 मुकाबलों में टीम को जीत नसीब हुई है।

जिम्बाब्वे का प्रदर्शन देखते हुए लालचंद राजपूत का कार्यकाल शायद आगे नहीं बढ़ाया जाएगा। उनके अनुबंध की समाप्ति सितम्बर में हो जाएगी। देखना होगा कि जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड फिर क्या फैसला लेता है। लालचंद राजपूत की जगह किसी अन्य विकल्प पर विचार किया जाएगा या नहीं, यह समय आने पर ही पता चल पाएगा।

जिम्बाब्वे की टीम इस समय आयरलैंड दौरे पर गई हुई है। वहां इस टीम ने एक टी20 में जीत दर्ज की है और एक मैच में पराजय का सामना किया है। सीरीज अभी बराबरी पर है और अंतिम मुकाबला निर्णायक साबित होगा।

Edited by Naveen Sharma
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now