Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

न्यूजीलैंड ने कम स्कोर के बावजूद दिल्ली एकदिवसीय में भारतीय टीम को हराया

EXPERT COLUMNIST
Modified 11 Oct 2018, 14:22 IST
Advertisement
न्यूजीलैंड ने दिल्ली में खेले गए दूसरे एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय में भारत को 6 रनों से हराकर इस दौरे की अपनी पहली जीत दर्ज की। हालांकि केन विलियमसन के बेहतरीन शतक के बावजूद कीवी टीम ने सिर्फ 242 रन ही बनाये थे लेकिन भारतीय बल्लेबाजी के फ्लॉप होने के कारण आज आख़िरकार न्यूजीलैंड को जीत हासिल हुई। विलियमसन को उनके 118 रनों के लिए मैन ऑफ़ द मैच चुना गया। पांच मैचों की सीरीज अब 1-1 से बराबरी पर आ गई है और तीसरा एकदिवसीय 23 अक्टूबर को मोहाली में खेला जाएगा। गौरतलब है कि धोनी की कप्तानी में भारत को फिरोजशाह कोटला में पहली हार मिली है, वहीँ न्यूजीलैंड ने 2003 के बाद पहली बार भारत को भारत में हराया है। टॉस जीतकर धोनी ने आज फिर पहले गेंदबाजी निर्णय लिया है और उमेश यादव ने पहले ही ओवर में मार्टिन गप्टिल को 0 पर आउट करके न्यूजीलैंड को बड़ा झटका दिया। लेकिन इसके बाद कप्तान विलियमसन ने टॉम लैथम के साथ 120 रन जोड़े और टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। लैथम को 46 के स्कोर पर केदार जाधव ने चलता किया। विलियमसन ने अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन रॉस टेलर और कोरी एंडरसन के धीमी पारी खेलने से रन रेट प्रभावित हुआ। टेलर ने 42 गेंदों में और एंडरसन ने 32 गेंदों में 21 रन बनाये। विलियमसन ने 109 गेंदों में एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय में अपना आठवां और भारत के खिलाफ पहला शतक पूरा किया। 40 ओवरों के बाद न्यूजीलैंड का स्कोर 202/3 था। लेकिन इसके बाद मैच भारत के पक्ष में आ गया और आखिरी के 10 ओवरों में न्यूजीलैंड सिर्फ 40 रन ही बना पाई और उनके 6 विकेट गिर गए। केन विलियमसन ने 118 रनों की पारी खेली लेकिन उनके आउट होने के बाद कोई भी बल्लेबाज 10 रन भी नहीं बना पाया। अमित मिश्रा और जसप्रीत बुमराह ने 3-3 विकेट लिए। उमेश यादव, अक्षर पटेल और केदार जाधव ने एक-एक विकेट लिया। लक्ष्य के जवाब में भारत की शुरुआत काफी धीमी रही। पहले 10 ओवर में भारत का स्कोर सिर्फ 35 था और रोहित शर्मा 15 रन बनाकर आउट हो चुके थे। ट्रेंट बोल्ट ने शुरूआती 6 ओवर में 2 मेडेन फेंके और उन्हें एक सफलता मिल चुकी थी। विराट कोहली सिर्फ 9 रन बनाकर आउट हो गए और जिम्मेदारी रहाणे के ऊपर आ गई थी। लेकिन रहाणे भी 28 और मनीष पांडे 19 रन बनाकर आउट हो गये और भारत का स्कोर 73/4 हो गया। यहाँ भारतीय पारी काफी मुश्किल में दिख रही थी। यहाँ से कप्तान धोनी ने केदार जाधव के साथ पांचवें विकेट के लिए 66 रन जोड़े और जाधव ने 41 रनों की तेज़ पारी खेली। लेकिन जाधव के 41 रनों पर आउट होते ही मैच फिर से कीवी टीम के पक्ष में जाता दिखने लगा। धोनी ने अक्षर पटेल के साथ 33 रन जोड़े लेकिन 172 के स्कोर पर टिम साउदी ने धोनी को 39 रनों पर आउट कर दिया। थोड़ी देर बाद अक्षर पटेल भी 17 और अमित मिश्रा 1 रन बनाकर आउट हो गये। भारत का स्कोर 183/8 हो गया और यहां से जीत लगभग नामुमकिन दिख रही थी। मार्टिन गप्टिल ने अपने एक ही ओवर में 2 विकेट लिए। जीत के लिए 55 गेंदों में 60 रनों की जरूरत थी और हार्दिक पांड्या का साथ देने उमेश यादव आये। दोनों ने नौवें विकेट के लिए 49 रन जोड़े और मैच में एक बार फिर भारत ने वापसी कर ली। लेकिन पांड्या को 49वें ओवर में बोल्ट ने 36 रनों पर आउट कर दिया और आखिरी ओवर में साउदी ने बुमराह को बोल्ड करके मैच को खत्म कर दिया। उमेश यादव 17 रन बनाकर नाबाद रहे लेकिन वो भारत को जीत नहीं दिला सके। साउदी ने 3, बोल्ट और गप्टिल ने 2 और मैट हेनरी के साथ मिचेल सैंटनर ने एक-एक विकेट लिया। स्कोरकार्ड: न्यूजीलैंड: 242/9 (विलियमसन 118, बुमराह 3/35, मिश्रा 3/60) भारत: 236 (केदार जाधव 41, धोनी 39, साउदी 3/52) Published 20 Oct 2016, 21:33 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit