Create
Notifications

पाकिस्तान के दिग्गज ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया

निशांत द्रविड़
visit

पाकिस्तान के दिग्गज और महान ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी ने आख़िरकार अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। पाकिस्तान के लिए 1996 में केन्या के विरुद्ध अपना डेब्यू करने वाले अफरीदी ने कुल मिलकर 398 एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय और 98 टी20 अंतर्राष्ट्रीय खेले। टेस्ट क्रिकेट से अफरीदी ने 2010 में ही संन्यास ले लिया था। हालांकि अफरीदी ने संन्यास की घोषणा के साथ ये भी कहा कि वो अगले दो साल तक प्रोफेशनल टी20 लीग में खेलना जारी रखेंगे। शाहिद अफरीदी को उनकी धमाकेदार बल्लेबाजी के लिए हमेशा जाना जाएगा। अपने दूसरे ही मैच में उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 37 गेंदों में शतक लगाकर विश्व रिकॉर्ड बनाया था, जो कई सालों तक उनके नाम रहा था। धुआंधार बल्लेबाजी के अलावा अफरीदी को उनके लेग स्पिन गेंदबाजी के लिए भी जाना जाता है। पाकिस्तान के लिए अफरीदी ने अपना आखिरी एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय 2015 विश्व कप में और अपना आखिरी टी20 अंतर्राष्ट्रीय पिछले साल वर्ल्ड टी20 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था। वर्ल्ड टी20 के बाद उन्होंने टीम की कप्तानी छोड़ दी और उसके बाद उन्हें टीम से भी बाहर कर दिया गया था। काफी समय से ऐसी अटकलें लगाई जा रही थी कि अफरीदी अपने संन्यास की घोषणा जल्द ही करेंगे लेकिन एक फेयरवेल मैच की वजह से उन्होंने इसमें देर की हुई थी। हालांकि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें ये मौका नहीं दिया और आख़िरकार अफरीदी को भारी मन से ये फैसला लेना ही पड़ा। अफरीदी फिलहाल पाकिस्तान सुपर लीग में खेल रहे हैं और पेशावर ज़ल्मी के लिए उन्होंने 28 गेंदों में 54 रनों की धुआंधार पारी खेलने के बाद ये बड़ा फैसला लिया। अफरीदी के फैन्स के लिए ये अच्छी खबर नहीं है और वो एक आखिरी बार उन्हें पाकिस्तान के लिए खेलता देखना चाहते थे। अफरीदी ने 398 एकदिवसीय मैचों में 6 शतक और 39 अर्धशतक की मदद से 8064 रन बनाये और इसके अलावा उन्होंने 395 विकेट भी लिए। 98 टी20 मैचों में उनके नाम 4 अर्धशतकों के साथ 1405 रन दर्ज हैं। टी20 अंतर्राष्ट्रीय में उन्होंने रिकॉर्ड 97 विकेट भी लिए हैं।


Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now