क्रिकेट के बाद सियासत में भी आना चाहते हैं शाहिद आफ़रीदी

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेट कप्तान और मशहूर ऑलराउंडर शाहिद आफ़रीदी क्रिकेट के बाद सियासत में भी हाथ आज़माना चाहते हैं। आफ़रीदी अभी से ही कई सामाजिक कार्यों में अपने आपको व्यस्त रखते हैं और आने वाले वक़्त में वह राजनीति के मैदान से भी देश की सेवा करना चाहते हैं। BBC URDU के साथ बातचीत के दौरान दाएं हाथ के इस ऑलराउंडर ने अपने संन्यास पर भी बोला और कहा कि 50 ओवर की क्रिकेट में वह अब कभी नज़र आएंगे, लेकिन टी20 वह खेलते रहेंगे। आफ़रीदी ने सियासत की पिच के बारे में कहा कि कई लोगों ने उन्हें कहा कि आपको राजनीति में आना चाहिए, जिसके बाद मैंने भी ये सोचा है कि सियासत से भी देश की सेवा की जा सकती है। 36 वर्षीय इस हरफ़नमौला क्रिकेटर ने कहा कि वह कई तरह का सामाजिक कार्य कर रहे हैं, जो उन्हें समाज की सेवा करने का मौक़ा देता है। ग़रीबों के लिए एक स्कूल खोलने के लिए भी शाहिद आफ़रीदी फ़ाउंडेशन काम कर रहा है। "मैं चाहता हूं कि सीमित ओवर का क्रिकेट में खेलता रहूं, भले ही वह देश, क्लब या किसी लीग के लिए हो, क्योंकि मैं अभी पूरी तरह से फ़िट हूं। और इसके बाद सियासत में आकर भी मैं देश के लिए कुछ करना चाहता हूं।" :शाहिद आफ़रीदी शाहिद आफ़रीदी इस वक़्त इंग्लैंड में हैं जहां वह नैटवेस्ट टी20 ब्लास्ट में हैम्पशायर की टीम से खेल रहे हैं। आफ़रीदी से पहले पूर्व पाकिस्तानी कप्तान इमरान ख़ान भी सियासत के मैदान में कई सालों से हैं।

App download animated image Get the free App now