सर रिचर्ड हेडली की नजर में मौजूदा बल्लेबाजों में सर्वश्रेष्ठ हैं एबी डीविलियर्स

न्यूजीलैंड के पूर्व महान ऑलराउंडर सर रिचर्ड हेडली को खुद में और इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन में काफी समानताएं नजर आती हैं क्योंकि दोनों ही खिलाड़ी अपने करियर के दूसरे चरण में काफी उपयोगी रहे हैं। इसके साथ ही हेडली ने न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन की तारीफ की और मौजूदा समय में विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के बारे में भी अपने विचार व्यक्त किए। हेडली को विश्व के सर्वकालिक महान तेज गेंदबाजों में से एक माना जाता है और क्रिकेट इतिहास में उन्हें महान ऑलराउंडर का दर्जा भी हासिल है। अपने 86 टेस्ट के करियर में उन्होंने 431 विकेट लिए तथा दो शतक व 15 अर्धशतकों की मदद से 3124 रन बनाए। 1989/90 में वह 400 टेस्ट विकेट लेने वाले विश्व के पहले गेंदबाज बने। तब उन्होंने अपने घरेलू मैदान क्राइस्टचर्च में भारत के खिलाफ पहले टेस्ट की पहली पारी में संजय मांजरेकर का शिकार किया था। एक समारोह में हिस्सा लेने आए हेडली ने कहा, 'एंडरसन दोनों तरफ गेंद को स्विंग कराना जानते हैं और उनका गेंद पर नियंत्रण भी अच्छा है। उन्होंने 400 से अधिक टेस्ट विकेट लिए हैं तथा उनकी औसत भी कम हुई है। वह अब अपने पहले चरण से ज्यादा उपयोगी बन चुके हैं, बिलकुल मेरे जैसे।' बता दें कि जेम्स एंडरसन ने 2002/03 में इंग्लैंड के ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान 20 की उम्र में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था। उन्होंने अब तक 194 वन-डे में 269 विकेट, 19 अंतरराष्ट्रीय टी20 मैचों में 18 विकेट तथा 119 टेस्ट में 462 विकेट लिए हैं। इसके साथ ही हेडली ने भारतीय क्रिकेट की सनसनी विराट कोहली की तारीफ की और कहा कि बल्लेबाजी में आगे भारतीय टेस्ट कप्तान समेत इंग्लैंड के जो रूट, ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ और कीवी कप्तान केन विलियम्सन का दबदबा होगा। हेडली ने कहा, 'यह चारों (विराट, रूट, स्मिथ और विलियम्सन) शानदार बल्लेबाज हैं और इन्हें बल्लेबाजी करते देखने में मजा आता है। मेरे लिए क्रिकेट के हर प्रारूप में इस समय विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज एबी डीविलियर्स हैं।' महान ऑलराउंडर ने कीवी कप्तान केन विलियम्सन की जमकर तारीफ की और अनुमान लगाया कि वह देश के सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक बनेंगे। उन्होंने कहा, 'क्रिकेट हमेशा ही पहले टीम का खेल और फिर व्यक्तिगत प्रदर्शन के लिए होता है। केन विलियम्सन बिलकुल ऐसा ही अलग अंदाज में करते हैं। वह अपनी ही शैली में आक्रामक क्रिकेट खेलते हैं और खिलाड़ियों को बहुत प्रोत्साहित भी करते हैं। वह खेल में कुछ अच्छा करेगा और उसकी शुरुआत वो कर चुका है।'

Edited by Staff Editor