ऑस्ट्रेलिया ने एडम वोजेस और कैलम फर्ग्युसन की दुविधा का खामियाजा भुगता

ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच होबार्ट टेस्ट के चौथे दिन का खेल शुरू होने तक दक्षिण अफ्रीका से कंगारू टीम करीब 100 से अधिक रन से पीछे थी। वे दक्षिण अफ्रीका को कुछ लक्ष्य देकर फिर से बल्लेबाजी के लिए बुलाना चाहते थे लेकिन ऐसा नहीं हो सका। दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों ने दृढ़ता और धैर्य का परिचय देते हुए ऑस्ट्रेलिया के एडम वोजेस और कैलम फर्ग्युसन को जल्दी ही आउट करके वापस ड्रेसिंग रूम में भेज दिया। तेज गेंदबाजों को मददगार पिच पर ऑस्ट्रेलिया ने टिकने की कोशिश जरूर की लेकिन उनके बल्लेबाज शॉट खेलने में गलती करके आउट होते चले गए। चौथे दिन के खेल में उस्मान ख्वाजा के जल्दी आउट होने के बाद कंगारुओं की इस टीम के सबसे अच्छे टेस्ट औसत वाले बल्लेबाज एडम वोजेस, जिन्हें सीम और स्विंग खेलने का खासा अनुभव है को मैदान में खड़े रहने की जरूरत थी। ख्वाजा के आउट होने के बाद आए वोजेस ने एबोट की गेंद को पुल करने का प्रयास किया तथा बाद में छोडने का मन बनाया, तब तक गेंद उनके बल्ले को छूकर गली में खड़े जेपी ड्यूमनी के हाथों में समा गई। इसके साथ ही इस 37 वर्षीय बल्लेबाज ने खुद के आगे के करियर पर भी प्रश्न चिन्ह लगा दिया। उनकी अंतिम तीन टेस्ट पारियों का स्कोर 1, 0 तथा 2 रन रहा है वोजेस के जाने के बाद टेस्ट मैच में पदार्पण करने वाले कैलम फर्ग्युसन भी जल्दबाजी दिखाते हुए वापस ड्रेसिंग रूम में जा बैठे। उन्होने भी असमंजस की स्थिति में गेंद को खेला और आउट होकर चलते बने। फर्ग्युसन ने कगिसो रबाडा की गेंद को पहले खेलने की कोशिश की, फिर डक करने का मन बनाया लेकिन यह फैसला लेने में हुई देरी होने के कारण गेंद उनके गलब्स को छूते हुए तीसरी स्लिप में खड़े एल्गर के हाथों में चली गई। इस तरह 100 प्रथम श्रेणी मैच खेलने वाले इस 31 वर्षीय बल्लेबाज ने भी टीम को निराश किया। गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच चल रही तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में दक्षिण अफ्रीका ने शुरुआती दोनों टेस्ट मैच जीतकर सीरीज पर कब्जा जमा लिया है।

Edited by Staff Editor