Create
Notifications

स्मृति मंधाना ने जीता आईसीसी वुमेंस क्रिकेटर ऑफ द ईयर और वनडे प्लेयर ऑफ द ईयर का अवॉर्ड

Enter caption
विनय प्रताप

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना को आईसीसी ' वुमेंस क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुना गया है। इसके लिए उन्होंने साल 2018 का रेचेल हेयोइ फ्लिंट पुरस्कार जीता। इसके साथ ही मंधाना को वनडे प्लेयर ऑफ द ईयर भी चुना गया है।

साथ ही आईसीसी ने साल की सर्वश्रेष्ठ टी20 महिला क्रिकेटर और उदयीमान महिला खिलाड़ी का भी ऐलान कर दिया है। ऑस्ट्रेलिया की एलिसा हीली को महिला टी20 क्रिकेटर ऑफ द ईयर और इंग्लैंड की 19 वर्षीय ऑफ स्पिनर सोफी एकल्सटॉन को इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर चुना गया है।।

भारत की 22 वर्षीय खिलाड़ी मंधाना को आईसीसी की सर्वश्रेष्ठ महिला वनडे टीम और साल की सर्वश्रेष्ठ महिला टी-20 टीम में भी शामिल किया गया है। उन्होंने 2018 में 12 वनडे मैचों में 66.90 की स्ट्राइक रेट से 669 रन बनाए हैं। इसके अलावा, मंधाना ने 25 टी-20 मैचों में 130.67 की स्ट्राइक रेट से 622 रन बनाए । उन्होंने महिला टी-20 विश्व कप में भी भारतीय टीम के लिए अहम भूमिका निभाई थी। इस टूर्नामेंट में भारत ने सेमीफाइनल तक का सफर तय किया था। बता दें कि स्मृति मंधाना झूलन गोस्वामी( 2007) के बाद ये पुरस्कार करने वाली दूसरी भारतीय खिलाड़ी बनी हैं।

इस खबर को सुनने के बाद मंधाना ने कहा, "यह पुरस्कार बेहद खास है। एक खिलाड़ी के तौर पर आप रन बनाना चाहते हैं, अपनी टीम को जिताना चाहते हैं और ऐसे में आपकी कड़ी मेहनत के लिए आपका सम्मान भी किया जाता है तो यह बेहद प्रेरणादायी होता है और आपको टीम के लिए बेहतर प्रदर्शन करने पर प्रेरित करता है।"

Enter caption

वहीं साल की सर्वश्रेष्ठ टी20 क्रिकेटर चुनी गईं एलिसा हीली ने खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि इस साल टी20 विश्व कप जीतना एक यादगार लम्हा था। इंग्लैंड के खिलाफ फाइनल में किया गया प्रदर्शन बेहद खास था। जब मैंने ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलना शुरू किया था तो कभी नहीं सोचा था कि ऐसा कोई सम्मान हासिल करुंगी।

Enter caption

एमर्जिंग प्लेयर ऑफ द ईयर का अवॉर्ड जीतने वाली इंग्लैंड की युवा खिलाड़ी एकल्सटॉन ने इस साल 9 एकदिवसीय मैचों में 18 और 14 टी20 मैचों में 17 विकेट हासिल किए हैं। उन्होंने पुरस्कार मिलने पर खुशी जताते हुए कहा कि यह पुरस्कार जीतना मेरे लिए बहुत खुशी की बात है। मैदान पर अच्छा प्रदर्शन करने के साथ साथ पहचान मिलना बहु जरूरी होता है। पिछले 12 महीनों में मैंने बहुत मेहनत कर अपने खेल में सुधार किया और ये समय मेरे लिए बहुत यादगार रहा।

Get Cricket News In Hindi Here.


Edited by सावन गुप्ता

Comments

Fetching more content...