क्रिकेट

सौरव गांगुली ने रवि शास्त्री के बयान पर दी प्रतिक्रिया

रवि शास्त्री ने मौजूदा टीम को पिछले 15-20 साल की श्रेष्ठ टीम बताया था

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम की हार के बाद भी कोच रवि शास्त्री ने टीम इंडिया को पिछले 15-20 सालों की श्रेष्ठ टीम बताया था। पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने इसका जवाब देते हुए शास्त्री का बयान अपरिपक्व बताया है और कहा कि ऐसे बयानों पर ज्यादा ध्यान नहीं देना चाहिए।

इंडिया टीवी से बातचीत करते हुए गांगुली ने कहा कि उनका इस तरह से बात करना अपरिपक्वता दर्शाता है। वे क्या बोलते हैं और क्या जानते हैं, ऐसी बातों पर ध्यान नहीं देना चाहिए। मैं नहीं चाहता कि ऐसी बातों पर फोकस किया जाना चाहिए। मैं चाहता हूं कि अंतिम टेस्ट में भारतीय टीम अच्छा खेल दिखाए। अलग-अलग समय की टीमों के बीच तुलना करना संभव नहीं है। चाहे द्रविड़, धोनी हो या कोई और, सभी टीम के लिए खेले हैं। सभी ने भारत का प्रतिनिधित्व किया है और कोहली का भी समर्थन करते हैं।


गौरतलब है कि विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम ने श्रीलंका और वेस्टइंडीज में जाकर टेस्ट सीरीज में सफलता अर्जित की है। सौरव गांगुली के जमाने की टीम का विदेशों में प्रदर्शन शास्त्री की बातों को गलत साबित करता है। गांगुली ने टीम को बनाया है। उन्हें एक ऐसी टीम मिली थी जिसे उनकी कप्तानी में जीतने की आदत पड़ी। दादा की कप्तानी के बाद आए अन्य कप्तानों को विरासत के रूप में शानदार टीम मिली। द्रविड़, धोनी आदि ऐसे कप्तान हैं जिन्हें गांगुली की बनाई हुई टीम मिली और सफलता की मुख्य वजह भी यही है।

भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री के बयान की चारों तरफ आलोचना हो रही है। सभी क्रिकेट के जानकार उनकी इस प्रतिक्रिया को गलत बता रहे हैं। टीम इंडिया सीरीज में 1-3 से पीछे है और अंतिम टेस्ट मैच लन्दन के ओवल में चल रहा है। इस मैच का परिणाम भी देखने लायक होगा।