राहुल द्रविड़ को नोटिस भेजने के बाद बीसीसीआई पर भड़के सौरव गांगुली

KR Beda
राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली
राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली

पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने राहुल द्रविड़ को हितों के टकराव मामले में नोटिस देने पर बीसीसीआई की आलोचना की है। उन्होंने अपने ट्विट में बीसीसीआई पर कटाक्ष करते हुए भगवान से भारतीय क्रिकेट की मदद करने की बात कही। आपको बता दें कि मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के सदस्य संजय गुप्ता के आरोप लगाने के बाद बीसीसीआई ने द्रविड़ को हितों के टकराव मामले में नोटिस भेजा है।

पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली, जिन्हें सीएबी के अध्यक्ष और दिल्ली कैपिटल्स के मेंटर होने की वजह से इस नोटिस का सामना करना पड़ा, ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) को आड़े हाथों लिया और इसे भारतीय क्रिकेट में एक नया फैशन बताया।

सौरव गांगुली ने अपने ट्विट में लिखा, "भारतीय क्रिकेट में नया फैशन है- हितों का टकराव - खबरोंं में बने रहने का सबसे अच्छा तरीका, भगवान भारतीय क्रिकेट की मदद करें, द्रविड़ को हितों के टकराव मामले में बीसीसीआई ने नोटिस भेजा है।"

संजय गुप्ता की शिकायत के अनुसार राहुल द्रविड़ जो वर्तमान में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के निदेशक है, वह इंडिया सीमेंट ग्रुप के उपाध्यक्ष भी है और इस ग्रुप के पास आईपीएल टीम चेन्नई सुपर किंग्स का मालिकाना हक है।

उम्मीद की जा रही है कि राहुल द्रविड़ को 16 अगस्त तक अपना जवाब दाखिल करना होगा और फिर जस्टिस जैन की याचिका पर सुनवाई के लिए पेश होना होगा।

राहुल द्रविड़ से पहले सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण ने भी सीएसी के सदस्य और आईपीएल फ्रेंचाइजी के मेंटर के रूप में दोहरी भूमिका के लिए हितों के टकराव नोटिस का सामना किया था।

तेंदुलकर ने बाद में यह स्पष्ट किया कि वह तब तक अपना काम जारी रखना पसंद नहीं करेंगे जब तक उन्हें संदर्भ में उचित शर्तें नहीं दी जाती। जबकि लक्ष्मण ने अपने जवाब में कहा कि यदि उनके संरक्षक की भूमिका को सीएसी सदस्य के रूप में विवादित पाया गया, तो वह पद छोड़ने के लिए तैयार है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

Quick Links

App download animated image Get the free App now