Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

South Asian Games 2019: बांग्लादेश ने पुरुष क्रिकेट का स्वर्ण पदक जीता, नेपाल ने बनाया जबरदस्त रिकॉर्ड

SENIOR ANALYST
न्यूज़
Modified 21 Dec 2019, 01:17 IST

बांग्लादेश  vs श्रीलंका
बांग्लादेश vs श्रीलंका

बांग्लादेश की अंडर-23 पुरुष टीम ने नेपाल में खेले जा रहे 13वें साउथ एशियाई खेलों में क्रिकेट का स्वर्ण पदक जीत लिया है। फाइनल मुकाबल में उन्होंने श्रीलंका अंडर-23 टीम को 7 विकेट से हराया। 20-20 ओवरों के मैच में श्रीलंका की टीम पहले खेलते हुए 122 रन ही बना सकी और बांग्लादेश ने इस लक्ष्य को 18.1 ओवर में 3 विकेट खोकर आसानी से हासिल कर लिया। हसन महमूद को उनकी शानदार गेंदबाजी (20 रन, 3 विकेट) के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। वहीं ब्रॉन्ज मेडल मैच मेजबान नेपाल ने जीता। उन्होंने मालदीव को 5 विकेट से हराकर कांस्य पदक अपने नाम किया।

गोल्ड मेडल जीतने वाली बांग्लादेश की टीम ने राउंड रॉबिन स्टेज में अपने 4 मैचों में से तीन मैचों में जीत हासिल की थी। 4 दिसंबर को खेले गए पहले मुकाबले में उन्होंने मालदीव को 109 रनों से हराया था। इसके बाद 6 दिसंबर को बांग्लादेश ने भूटान को एकतरफा मुकाबले में 10 विकेट से मात दी। 7 दिसंबर को हुए मैच में मेजबान नेपाल को उन्होंने 44 रनों से हराया। 8 दिसंबर को खेले गए मुकाबले में उन्हें श्रीलंका से 9 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। साउथ एशियन गेम्स में बांग्लादेश की तरफ से सौम्य सरकार ने भी हिस्सा लिया जो बांग्लादेश की सीनियर टीम का प्रमुख हिस्सा हैं।

Photo-Twitter
Photo-Twitter

श्रीलंका की अगर बात करें तो राउंड रॉबिन स्टेज में अपने सभी मुकाबले जीतकर प्वॉइंट टेबल में पहला स्थान हासिल किया था। 3 दिसंबर को पहले मुकाबले में उन्होंने नेपाल को 6 विकेट से हराया था। इसके बाद 4 दिसंबर को उन्होंने भूटान को 173 रनों के बड़े अंतर से मात दी। पहले खेलते हुए श्रीलंका ने निर्धारित 20 ओवरों में 4 विकेट के नुकसान पर 248 रनों का विशाल स्कोर बनाया। जवाब में भूटान की टीम 75 रन पर ही सिमट गई। श्रीलंका के लिए इस मैच में 9 खिलाड़ियों ने गेंदबाजी की। 5 दिसंबर को हुए मैच में उन्होंने मालदीव को 98 रन से हराया और 8 दिसंबर को बांग्लादेश को 9 विकेट से मात दी।

नेपाल की अगर बात करें तो उन्हें 2 मैचों में जीत मिली और 2 में हार का सामना करना पड़ा। सबसे पहले उन्हें श्रीलंका से 6 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। इसके बाद 5 दिसंबर को उन्होंने भूटान को 141 रनों से हरा दिया। पहले खेलते हुए नेपाल ने 236 रन बनाए। कप्तान ज्ञानेंद्र मल्ला ने 55 गेंदों पर 5 चौके और 9 छक्के की मदद से 107 रनों की जबरदस्त पारी खेली। ये उनके टी20 अंतर्राष्ट्रीय करियर का पहला शतक था। जवाब में भूटान की टीम 95 रन ही बना पाई। टी20 अंतर्राष्ट्रीय में रनों के लिहाज से ये छठी सबसे बड़ी जीत है। 6 दिसंबर को हुए मुकाबले में नेपाल ने मालदीव को 84 रन से हराया लेकिन इसके बाद बांग्लादेश से उन्हें 44 रनों से हार का सामना करना पड़ा।

मालदीव को अपने 4 में से सिर्फ एक मैच में जीत मिली और 3 में हार का सामना करना पड़ा। एकमात्र जीत उन्हें भूटान के खिलाफ मिली, जिसमें उन्होंने 8 विकेट से भूटान को हराया। वहीं भूटान की टीम एक भी मैच नहीं जीत पाई। आपको बता दें कि श्रीलंका और बांग्लादेश की अंडर 23 टीम ने हिस्सा लिया और इसी वजह से सिर्फ नेपाल भूटान और मालदीव्स के बीच खेले गए मुकाबले ही टी20 अंतरराष्ट्रीय थे।

साउथ एशियन गेम्स 2019 की सभी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Published 09 Dec 2019, 20:31 IST
Advertisement
Fetching more content...