Create

स्पोर्ट्सकीड़ा क्रिकेट अवॉर्ड्स : साल 2017 के टॉप 10 वनडे बल्लेबाज़

BABAR

न्यूज़ीलैंड और वेस्टइंडीज़ के बीच तीसरा वनडे मैच साल 2017 का आख़िरी वनडे मैच था। इस साल 129 वनडे मैच खेले गए जिसमें बल्लेबाज़ों ने 66351 गेंदों पर 59298 रन बनाए। अगर गेंदबाज़ों की बात करें तो गेंदबाज़ों ने 1799 विकेट हासिल किए हैं। इस साल ये भी देखने को मिला कि किस तरह पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने टीम इंडिया को फ़ाइनल में 158 रन से हराकर आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफ़ी में अपनी बादशाहत क़ायम की थी। साल 2017 में इंग्लैंड सबसे सफल टीम साबित हुई जिसने 20 वनडे मैचों में 15 में जीत दर्ज की थी और इस तरह अंग्रेज़ों की जीत का प्रतिशत 75 रहा था। इसके बाद टीम इंडिया का नंबर आता है जिसने 29 वनडे मैच खेले और 21 में जीत का स्वाद चखा। इस तरह भारतीय टीम के जीत का प्रतिशत 69 रहा था। साल 2017 में कई शानदार क्रिकेट देखने को मिली है जिसमें रोहित शर्मा की डबल सेंचुरी, ट्रेंट बोल्ट का एक मैच में 7 विकेट लेना, अफ़ग़ानिस्तान के राशिद ख़ान का वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ प्रदर्शन शामिल है। इस साल कुछ ऐसे भी बल्लेबाज़ रहे हैं जिन्होंने लगातार बढ़ियां खेल दिखाया है। यहां हम ऐसे टॉप 10 वनडे बल्लेबाज़ों के बारे में बता रहे हैं जिन्होंने साल 2017 में शानदार प्रदर्शन किया है।

#10 बाबर आज़म

काफ़ी दिनों बाद पाकिस्तानी टीम को ऐसा बल्लेबाज़ मिला है जिनकी बल्लेबाज़ी पर पूरी टीम भरोसा करती है। बाबर सीमीत ओवरों के खेल में शानदार प्रदर्शन करते हैं। उन्होंने साल 2015 में डेब्यू किया था तब से लेकर अब तक वो लगातार अपने खेल से सबका दिल जीत रहे हैं। दाएं हाथ के बल्लेबाज़ बाबर आज़म को पाकिस्तान का विराट कोहली कहा जाता है, क्योंकि वो भारतीय कप्तान की तरह शानदार खेल दिखाते हैं। 23 साल के इस क्रिकेटर ने साल 2017 के कैलेंडर ईयर में 67 की औसत से 872 रन बनाए हैं, इसमें उनके 4 शतक और 2 अर्धशतक शामिल है। सिर्फ़ रोहित शर्मा और कोहली ही ऐसे क्रिकेटर हैं जिन्होंने इस साल बाबर से ज़्यादा शतक लगाए हैं। हांलाकि बाबर के लिए ये साल काफ़ी कामयाब रहा है लेकिन उनका स्ट्राइक रेट उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा है, मुमकिन है कि साल 2018 में वो इसमें सुधार ला पाएंगे। उनका स्ट्राइक रेट महज़ 79 था जो किसी भी मध्य क्रम के बल्लेबाज़ के लिए काफ़ी कम माना जाएगा।

#9 एबी डीविलियर्स

ABD

हांलाकि कुछ बल्लेबाज़ों ने साल 2017 में एबी डीविलियर्स से ज़्यादा रन बनाए हैं, लेकिन फिर भी इस दक्षिण अफ़्रीकी बल्लेबाज़ ने अपनी जगह टॉप 10 वनडे बल्लेबाज़ों में बना ली है। जब वो रन बनाते हैं तो सबके दिलों में अपनी गहरी छाप छोड़ देते हैं। पिछले कुछ सालों से डीविलियर्स ने खुद के लिए एक मापदंड तय किया है जिसके हिसाब से वो जब भी एक पारी में 50 से कम रन बनाते हैं तो 100 से ऊपर का स्ट्राइक रेट पाने की कोशिश करते हैं। उनका मानना है कि 50 से कम रन बनाते वक्त 100 से कम का स्ट्राइक रेट नाकामयाबी की निशानी है। साल 2017 में प्रोटियाज़ बल्लेबाज़ ने 18 पारियों में 773 रन बनाए उनका बल्लेबाज़ी औसत 60 के करीब था जो कमाल का है। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 117 का था जिसे बना पाना किसी भी बल्लेबाज़ के लिए आसान नहीं होता है। ये जानकर हैरानी होती है कि कोई भी बल्लेबाज़ अपना स्ट्राइक रेट इतने लंबे वक़्त तक कैसे बरक़रार रख सकता है। यही वजह है कि उनके चाहने वाले उन्हें ‘सुपरमैन’ के नाम से पुकारते हैं।

#8 फ़ैफ़ डू प्लेसी

FAF

जब दक्षिणअफ़्रीकी टीम के मश्हूर बल्लेबाज़ हाशिम अमला, क्विंटन डी कॉक, एबी डीविलियर्स जब ज़्यादा से ज़्यादा रन बना रहे थे तब प्रोटियाज़ टीम के कप्तान फ़ैफ़ डू प्लेसी ने इस साल चुपके से 900 से ज़्यादा रन बना डाले। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज़ ने बतौर कप्तान अपनी टीम के बाक़ी बल्लेबाज़ों का बख़ूबी साथ दिया और विपक्षी टीम के गेंदबाज़ों के छक्के छुड़ा दिए। उन्होंने साल 2017 में 18 वनडे पारियां खेली हैं और 60.33 की औसत से 905 रन बना डाले, इसमें उनका स्ट्राइक रेट 93 के क़रीब था। 33 साल के इस क्रिकेटर ने इस साल 2 शतक और 6 अर्धशतक बनाए हैं। डू प्लेसी जब बल्लेबाज़ी करने आते थे तो वो साउथ अफ़्रीकी टीम के बाक़ी बैट्स्मैन की बल्लेबाज़ी में साथ देते नज़र आते थे। श्रीलंका के ख़िलाफ़ वनडे में उन्होंने 185 रन की पारी खेली थी जो साल 2017 की दूसरी सबसे बड़ी पारी है। वनडे में इस साल का सबसे बड़ा स्कोर रोहित शर्मा ने बनाया था, जब उन्होंने श्रीलंका के ख़िलाफ़ दोहरा शतक लगाया था।

#7 क्विंटन डी कॉक

DE COCK

क्विंटन डी कॉक साल 2017 में साउथ अफ़्रीका के उन बल्लेबाज़ों की फ़ेहरिस्त में शामिल हुए हैं जिन्होंने 2017 में सबसे ज़्यादा रन बनाए हैं। पूरे साल उनका प्रदर्शन काबिल-ए-तारीफ़ रहा है और हर गेंद पर उनका दबदबा क़ायम रहता था। डी कॉक प्रोटियाज़ टीम के लिए ओपनिंग बल्लेबाज़ी करते हैं और सीमित ओवरों के मैच में उनकी सूझ बूझ देखते ही बनती ही। वो मौक़े की नज़ाकत को समझते हुए स्कोरबोर्ड पर रन संख्या को बढ़ाते रहते हैं और ज़रूरत के हिसाब से वक़्त वक़्त पर अपनी स्ट्राइक बदलते रहते हैं। इस विकेटकीपर बल्लेबाज़ ने साल 2016 में उन्होंने थोड़े कम रन बनाए थे, लेकिन साल 2017 में उनके खेल में ज़बरदस्त सुधार आया और हम उम्मीद कर सकते हैं कि आने वाले सालों में वो और ऊंचाइयों को छुएंगे। 2017 में उन्होंने 19 वनडे पारियां खेली हैं और 53 की औसत से 956 रन बनाए हैं, इसमें उनका स्ट्राइक रेट 95 रहा है।

#6 शिखर धवन

SHIKHAR

साल 2017 की शुरुआत शिखर धवन के लिए चुनौतीपूर्ण थी। वो कई बार अपने बुरे फ़ॉर्म की वजह से टीम से बाहर भी रहे थे। उन्होंने टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की करने के लिए भी बहुत जद्दोजहद की। टीम मैनेजमेंट ने उन पर भरोसा जताते हुए साल 2017 की आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफ़ी के लिए वापस बुलाया। इसके बाद से शिखर ने फिर कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा। उन्होंने साल 2017 में 3 शतक और 6 अर्धशतक लगाए और 2019 के वर्ल्ड कप तक के लिए टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की कर ली। इस साल उन्होंने रोहित शर्मा के साथ मिलकर ओपनिंग बल्लेबाज़ी की और विपक्षी टीम के गेंदबाज़ों पर क़हर बरपा दिया। वो शुरुआती रन बनाने में माहिर हैं जिससे मध्य क्रम के बल्लेबाज़ों को मदद मिलती है। साल 2017 में उन्होंने वनडे की 22 पारियों में 48 की औसत से 960 रन बनाए जिसमें उनका स्ट्राइक रेट 102 था। यही वजह रही कि वो टॉप 10 वनडे बल्लेबाज़ों की लिस्ट में शामिल हैं।

#5 जो रूट

ROOT

इंग्लैंड टेस्ट टीम के कप्तान जो रूट का टेस्ट क्रिकेट में प्रदर्शन मिला जुला रहा क्योंकि वो एशेज़ में रन बनाने के लिए काफ़ी जद्दोजहद कर रहे हैं। लेकिन साल 2017 में 27 साल के इस खिलाड़ी के लिए वनडे में प्रदर्शन शानदार रहा है। वो इस साल इंग्लैंड के टॉप रन स्कोरर में से एक हैं। ईयॉन मॉर्गन और जो रूट के बीच इस साल वनडे रन का फ़ासला 200 रन से ज़्यादा का है। यॉर्कशायर के इस खिलाड़ी ने साल 2017 में 18 वनडे पारियां खेली हैं जिसमें उन्होंने 18 पारियों में 70 से ज़्यादा की औसत से 983 रन बनाए हैं और उनका स्ट्राइक रेट 92 रन का रहा है। इस साल उन्होंने 2 शतक और 6 अर्धशतक लगाए हैं उनका सर्वाधिक निजी स्कोर 133 का रहा है। इस फेहरीस्त में वो इग्लैंड के एकलौते खिलाड़ी हैं।

#4 रॉस टेलर

TAYLOR

न्यूज़ीलैंड के पूर्व कप्तान रॉस टेलर उन खिलाड़ियों में से एक हैं जिन्होंने पिछले 12-18 महीनों में ख़ुद की नई पहचान बनाई है। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज़ ने पिछली नाकामियों को पीछे छोड़ते हुए फिर से नए रंग आने का फ़ैसला किया और दुनिया को दिखा दिया कि उनमें अभी भी बहुत दम ख़म बाक़ी है। साल 2017 में वो कीवी टीम के सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं, इसी टीम के दूसरे टॉप रन स्कोरर हैं कप्तान केन विलियमसन जिन्होंने टेलर से क़रीब 400 रन कम बनाए हैं। साल 2017 में रॉस टेलर ने 20 वनडे मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 968 रन बनाए हैं जिसमें 2 शतक और 7 अर्धशतक शामिल हैं। विराट कोहली, जो रूट, क्विंटन डी कॉक और अजिंक्य रहाणे ने भी इतने ही अर्धशतक साल 2017 में लगाए हैं। रॉस टेलर के रन बनाने में सबसे ख़ास बात ये रही कि उनका औसत 60 से भी ज़्यादा रहा और वो कीवी टीम के लिए काफ़ी फ़ायदेमंद साबित हुए। साल 2017 में उनका स्ट्राइक रेट 82 के क़रीब रहा, इसमें चौंकाने वाली बात ये रही कि टेलर ने सिर्फ़ एक छक्का लगाया था। वो 350 या उससे ज़्यादा रन बनाने वाले इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने इस साल 1 ही छक्का लगाया हो।

#3 उपल थरंगा

THARANGA

इस फ़ेहरीस्त में सबसे चौंकाने वाला नाम श्रीलंका के पूर्व कप्तान उपल थरंगा का ही है। श्रीलंका के लिए 2017 का साल किसी ख़ौफ़नाक सपने से कम नहीं था लेकिन फिर भी थरंगा साल के तीसरे सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ बने हैं। हांलाकि थरंगा को अपनी टीम के बाक़ी बल्लेबाज़ों का ज़्यादा साथ न मिल पाया हो, लेकिन उन्होंने ख़ुद शानदार प्रदर्शन करने की ठान ली थी। बाएं हाथ ये बल्लेबाज़ तीसरे ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने साल 2017 में 1000 रन का आंकड़ा पार किया हो। उन्होंने इस साल 48 की औसत से 1011 रन बनाए, इसमें उनका स्ट्राइक रेट 92 था। भले ही थरंगा ने बतौर खिलाड़ी बेहतरीन खेल दिखाया हो, लेकिन कप्तान के तौर पर उनका प्रदर्शन बेहद ख़राब रहा। थरंगा के बनाए रन का फ़ायदा बाक़ी टीम के बल्लेबाज़ नहीं उठा सके जिसका सीधा नुक़सान टीम के प्रदर्शन पर हुआ। श्रीलंका ने साल 2017 में 29 वनडे मैच खेले जिसमें उसने 23 में हार का स्वाद चखा। टीम की हार का प्रतिशत 79 रहा जो किसी भी टीम के लिए सबसे बुरा था।

#2 रोहित शर्मा

ROHIT

बिना किसी संदेह के ये कहा जा सकता है कि रोहित शर्मा बेहतरीन खिलाड़ी हैं और मौजूदा दौर के सबसे शानदार सलामी बल्लेबाज़ हैं। इस साल उनका धमाका हर तरफ़ देखने को मिला। अपनी विस्फोटक बल्लेबाज़ी से रोहित ने सबका दिल जीता और टीम इंडिया को नई ऊंचाइयों पर ले गए। साल 2017 में उन्होंने शानदार 6 शतक लगाए जिसमें से 1 दोहरा शतक शामिल हैं। रोहित विश्व के इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जिसने वनडे में 3 बार दोहरा शतक लगाया है। हांलाकि रोहित ने इस साल 8 वनडे मैच नहीं खेला है फिर भी दाएं हाथ के इस बल्लेबाज़ ने साल 2017 में कप्तान विराट कोहली के बाद सबसे ज़्यादा रन बनाए हैं। रोहित ने इस साल 21 मैच खेले हैं जिसमें 72 की औसत से 1293 रन बनाए हैं, उनका स्ट्राइक रेट 100 रहा है। रोहित और विराट कोहली ही ऐसे बल्लेबाज़ हैं जिसने इस साल 6 शतक बनाए हैं। क्रिकेट के छोटे फॉर्मेट में रोहित शर्मा ने अपनी क़ाबिलियत साबित की है। उम्मीद है कि साल 2018 में रोहित और भी अच्छा प्रदर्शन करेंगे जब टीम इंडिया एक के बाद एक विदेशी दौरे पर जाएगी।

#1 विराट कोहली

VK

आसान से अल्फ़ाज़ में ये कहा जा सकता है कि साल 2017 विराट कोहली का साल था। भारतीय कप्तान ने दुनिया के सामने साबित किया है कि उनके लिए रन बनाना बाएं हाथ का खेल है। इस साल टेस्ट में 3 दोहरा शतक लगाने के अलावा ये भी साबित किया है कि 50 ओवर के मैच में भी उनका कोई सानी नहीं है। 29 साल के इस बल्लेबाज़ ने साल 2017 में सबसे ज़्यादा वनडे रन बनाए हैं। उन्होने वनडे में 26 पारियां खेली हैं जिसमें 77 की औसत और 99 के स्ट्राइक रेट से 1460 रन अपने नाम किए हैं। इस इंडियन रन मशीन ने रोहित शर्मा के बाराबर 6 शतक लगाए हैं, विराट ने 7 अर्धशतक भी अपने नाम किए हैं। कोहली ने साल 2017 में ये सबको दिखा दिया है कि अगर उनके हाथ में बल्ला आ जाए तो वो क्या कमाल दिखा सकते हैं। उम्मीद है कि साल 2018 में उनका प्रदर्शन और भी ज़्यादा शानदार होगा। नए साल में कोहली की बल्लेबाज़ी और कप्तानी दोनों का इम्तिहान होगा जब टीम इंडिया विदेशी दौरे पर दक्षिण अफ़्रीका, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसी मज़बूत टीमों का समाना करेगी। लेखक - विग्नेश अनंथासुब्रमण्यण अनुवादक – शारिक़ुल होदा

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment