Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

SL vs AUS : तीसरे टेस्ट के पहले दिन डी सिल्वा के शतक ने कराई श्रीलंका की वापसी

ANALYST
Modified 11 Oct 2018, 13:48 IST
Advertisement
श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के बीच कोलंबो में शनिवार से शुरू हुए तीसरे व अंतिम टेस्ट के पहले दिन स्टंप्स तक मेजबान टीम ने 90 ओवर में 5 विकेट खोकर 214 रन बना लिए हैं। धनंजय डी सिल्वा 116 और दिनेश चंडीमल 64 रन बनाकर क्रीज पर जमे हुए हैं। श्रीलंका की टीम ने तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-0 की बढ़त बना रखी है। तीसरे टेस्ट में श्रीलंका के कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। ऑस्ट्रेलिया ने एशियाई उपमहाद्वीप में पिछले 8 टेस्ट के अपने निराशाजनक को पीछे छोड़ते हुए नई शुरुआत की। मेहमान टीम ने श्रीलंका के शीर्ष पांच बल्लेबाजों को सिर्फ 26 रन के स्कोर पर पवेलियन भेज दिया। मिचेल स्टार्क और नाथन लायन ने श्रीलंकाई बल्लेबाजों पर हमला बोला। स्टार्क ने कौशल सिल्वा (0) को कप्तान स्मिथ के हाथों कैच कराकर ऑस्ट्रेलिया को पहली सफलता दिलाई। दूसरे चोर पर लायन ने कुसल परेरा (16) को स्मिथ के हाथों कैच करा दिया। स्टार्क ने फिर दिमुथ करुनारात्ने (7) के डंडे बिखेर दिए। लायन ने कप्तान एंजेलो मैथ्यूज (1) को स्टार्क के हाथों कैच आउट करा दिया। फिर जबर्दस्त फॉर्म में चल रहे कुसल मेंडिस (1) भी स्टार्क की गति के सामने पस्त हो गए और स्मिथ को आसान सा कैच थमाकर पवेलियन लौट गए। मेजबान टीम गहरे संकट में थी और उस पर 50 रन के भीतर ऑलआउट होने का खतरा मंडरा रहा था। फिर धनंजय डी सिल्वा और दिनेश चंडीमल संकटमोचक बने। दोनों ने ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के हौसले पस्त करने का दारोमदार उठाया और छठें विकेट के लिए 188 रन की नाबाद साझेदारी की। धनंजय डी सिल्वा ने 240 गेंदों में 16 चौको की मदद से 116 रन की पारी खेली। जब टीम के 50 रन के भीतर पांच बल्लेबाज गिर गए हो तब सातवें क्रम पर शतक लगाने के मामले में सिल्वा विश्व के सातवें बल्लेबाज बन गए हैं। उनसे पहले पाकिस्तान के विकेटकीपर बल्लेबाज कामरान अकमल ने भारत के खिलाफ 2006 में यह कारनामा किया था। वहीं चंडीमल ने 204 गेंदों में 4 चौको की मदद से 64 रन बनाए। सिल्वा और चंडीमल ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ छठें विकेट के लिए 188 रन की नाबाद साझेदारी की, जो श्रीलंका में इस विकेट के लिए सर्वश्रेष्ठ है। इससे पहले छठें विकेट के लिए सर्वाधिक रनों की साझेदारी का रिकॉर्ड महेला जयवर्धने और एंजेलो मैथ्यूज के नाम था, जिन्होंने 31 अगस्त 2011 को गाले में 142 रन की साझेदारी की थी। श्रीलंका ने टेस्ट में सिर्फ दूसरी बार 50 रन के भीतर पांच विकेट खोने के बाद शानदार वापसी की है। इससे पहले 2006 में पाकिस्तान के खिलाफ कोलंबो में ही उसने ऐसा कारनामा किया था। चंडीमल और सिल्वा ने संभलकर बल्लेबाजी की और ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों विकेट लेने के लिए तरसा दिया। Published 13 Aug 2016, 17:44 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit