श्रीलंका टीम के लेग स्पिनर जैफ्रे वैंडरसे पर एक साल का प्रतिबंध लगा

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने लेग स्पिनर जेफ्रे वेंडरसे को कॉड ऑफ कंडक्ट का उल्लंघन करने के कारण एक साल के लिए सस्पेंड कर दिया गया है और साथ ही में उनके ऊपर सालाना अनुबंध का 20 फीसदी जुर्माना भी लगा है। वैनडरसे को इससे पहले वेस्टइंडीज दौरे पर बारबाडोस में खेले गए तीसरे टेस्ट से पहले श्रीलंका वापस भेज दिया गया था। वैंडरसे पर सेंट लूसिया में हुए दूसरे टेस्ट के बाद नाइट आउट करने के कारण अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार वैंडरसे टीम के तीन साथी खिलाड़ियों के साथ सेंट लूसिया टेस्ट के ड्रॉ होने के बाद नाइट क्लब में गए हुए थे। टीम मैनेजमेंट ने इसके बाद पुलिस से वैंडरसे के रूम में न होने की शिकायत की। वैंडरसे ने होटल में वापस लौटने के बाद टीम मैनेजमेंट को बताया कि साथी खिलाड़ी उन्हें छोड़कर वापस आ गए थे, जिसके बाद वो रास्ता भटक गए थे। इसके बाद वैंडरसे का वेस्टइंडीज दौरा 23 जून को ही खत्म हो गया और उसके बाद वैंडरसे को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चल रही सीरीज में भी जगह नहीं दी गई थी। वैंडरसे ने श्रीलंका के लिए 11 एकदिवसीय मुकाबलों में 43 की औसत से 10 विकेट लिए, तो दूसरी तरफ अबतक खेले 7 टी20 मुकाबलों में उन्होंने 44.25 की औसत से 4 विकेट लिए हैं। वैंडरसे ने अपनी गलती मान ली, जिसके बाद उनके ऊपर जुर्माना लगाया गया और एक साल के सस्पेंड भी किया गया है। श्रीलंका बोर्ड ने इस बात की जानकारी भी दी कि अगर वैंडरसे ने सस्पेंशन के बीच अपने अऩुबंध के तहत कोई और नियम तोड़ा तो उनके ऊपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। हालांकि यह पहला मौका नहीं था जब वैंडरसे विवादों में आए हैं, इससे पहले भारत दौरे से पहले घरेलू मुकाबले न खेलने के कारण उन्हें चेतावनी दी गई थी। श्रीलंका टीम कोे आने वाले एक साल में कई बड़ी सीरीज खेलनी है, जिसमें आईसीसी विश्वकप भी शामिल है। हालांकि वैंडरसे अब किसी भी सीरीज का हिस्सा नहीं बन पाएंगे।

App download animated image Get the free App now