श्रीलंका के बल्लेबाज धनंजय डी सिल्वा अपने पिता के हत्या के बाद भी देश के लिए खेलेंगे

श्रीलंका टीम के अहम बल्लेबाज धनंजय डी सिल्वा जल्द ही अपनी टीम के साथ वेस्टइंडीज में जुड़ने वाले हैं। 26 साल के डी सिल्वा ने अपने पिता की हत्या के बाद वेस्टइंडीज दौरे से अपना नाम वापस ले लिया था। हालांकि अब वोे एक बार फिर टीम के साथ जुड़ने के लिए तैयार हैं। श्रीलंका की टीम इस समय तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए वेस्टइंडीज दौरे पर है। श्रीलंका टीम के मुख्य चयनकर्ता ग्राहम लैब्रूये ने क्रिकबज से कहा, "धनंजय डी सिल्वा 6 जून से वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में खेले जाने वाले पहले टेस्ट में टीम का हिस्सा बन सकते हैं। हालांकि उनको खिलाने का फैसला टीम मैनेजमेंट के ऊपर है। धनंजय काफी लंबी फ्लाइट के बाद वहां पहुंचेंगे और उन्हें वहां के हालातों से तालमेल बिठाने में भी समय लग सकता है। इसी वजह से उनके चयन को लेकर अंतिम फैसला टीम मैनेजमेंट का ही होगा।" श्रीलंका टीम के वेस्टइंडीज के लिए रवाना होने से कुछ घंटे पहले ही डी सिल्वा के पिता को माउंट लविनिया में मार दिया गया था। उन्हें हॉस्पिटल में ले जाते ही मृत घोषित कर दिया गया। धनंजय डी सिल्वा श्रीलंका के लिए 13 टेस्ट मैच खेल चुके हैं और उन्होंने पिछले साल भारत के खिलाफ नेशनल टीम में वापसी की थी। उनके द्वारा दूसरी पारी में लगाए गए नाबाद शतक के जरिए ही श्रीलंका की टीम दिल्ली टेस्ट को ड्रॉ कराने में कामयाब हुई थी। उन्होंने इस शानदार फॉर्म को बांग्लादेश के खिलाफ हुई सीरीज में भी जारी रखा था और चटगांव टेस्ट में शतक भी लगाया। धनंजय डी सिल्वा के टीम के साथ जुड़ने से श्रीलंका को काफी फायदा होगा, क्योंकि वो काफी शानदार फॉर्म में चल रहे हैं। इसके अलावा टीम के नियमित सलामी बल्लेबाज दिमुथ करुणारतने उंगली में चोट के कारण इस सीरीज का हिस्सा नहीं बन पाएंगे। श्रीलंका की टीम ने इस दौरे पर कई नए खिलाड़ियों को मौका दिया है।

Edited by Staff Editor